अब कॉलेज प्रबंधन जारी करेगा ड्राइविंग लाइसेंस | DRIVING LICENCE @ COLLEGE

13 August 2018

नई दिल्ली। दिल्ली के युवाओं को ड्राइविंग लाइसेंस का लर्निंग बनवाने के लिए अब अथॉरिटी के चक्कर नहीं काटने होंगे। यह सुविधा अब उनके कॉलेज, पॉलिटेक्निक एवं आईटीआई में ही उपलब्ध होगी। दिल्ली सरकार ने इसे लेकर ट्रांसपोर्ट अधिकारी के माध्यम से अधिसूचना जारी कर दी है। पहले चरण में चार संस्थानों के प्रमुख को इसका अधिकार दिया गया है। इस योजना के पूरी दिल्ली में लागू होने से प्रत्येक वर्ष लगभग दो लाख छात्रों को फायदा होगा

परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने बीते 4 अगस्त को ट्विटर के माध्यम से यह जानकारी सांझा की थी। उन्होंने बताया था कि आप युवा हैं और दिल्ली में पढ़ते हैं। अगर ऐसा है तो अब आपको अपना ड्राइविंग लर्निंग लाइसेंस बनाने के लिए कहीं जाने की आवश्यकता नहीं है। आपके शिक्षण संस्थान से ही आपको लर्निंग लाइसेंस मिल जाएगा। बाद में इसे पक्का करवाने के लिए अथॉरिटी जाने की आवश्यकता होगी। इसके लिए दिल्ली सरकार कॉलेज, पॉलीटेक्निक और आईटीआई के निदेशक एवं प्रिंसिपल को यह अधिकार देने जा रही है ताकि इससे लाखों छात्रों का कीमती समय बच सके। 

अभी इन चार संस्थानों में मिलेगी सुविधा
ट्रांसपोर्ट विभाग द्वारा जारी अधिसूचना के तहत फिलहाल जीबी पंत इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, आचार्य नरेंद्र देव कॉलेज, आईटीआई पूसा और शहीद सुखदेव कॉलेज ऑफ बिजनेस स्टडीज में इसकी शुरुआत की गई है। जल्द ही अन्य शिक्षण संस्थानों के लिए भी ट्रांसपोर्ट विभाग इस योजना को शुरु करेगा। इसके लिए काम किया जा रहा है। 

ऑथोरिटी में फैले भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की कवायद
परिवहन सूत्रों की माने तो यह फैसला ट्रांसपोर्ट ऑथोरिटी में फैले भ्रष्टाचार पर लगाम लगाने की कवायद है। बीते जुलाई माह में जब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बुराड़ी ऑथोरिटी पहुंचे थे तो वहां उन्हें भ्रष्टाचार की काफी शिकायतें मिली थीं। जिसके बाद उन्होंने ऐसी योजनाओं पर काम करने को कहा था जिससे लोगों को कम से कम ऑथोरिटी जाना पड़े। उन्होंने फिटनेस जांच केंद्र भी जगह-जगह खोलने के निर्देश दिए थे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts