सिरकटी लाश का रहस्य खुला: सामने आई चौंकाने वाली कहानी | CRIME NEWS

उज्जैन। उन्हेल के जियाजीगढ़ मार्ग पर 13 अगस्त को मिली सिर कटी लाश के मामले में पुलिस ने दावा किया है कि उसने केस का पर्दाफाश कर दिया है। यह शव एक मजदूर का है। जिसका एक युवक ने मर्डर किया था। युवक ने यह मर्डर इसलिए किया ताकि वह खुद को मरा हुआ साबित कर सके और फिर अपनी शादीशुदा प्रेमिका के साथ लिव इन रिलेशन में आराम से बाकी की जिंदगी बिता सके। यह अवैध रिश्तों के खूनी अंत की कहानी है। 

क्या किया हत्यारोपी ने
घटना को अंजाम देने के लिए राजेश ने अपने कदकाठी के मजदूर को खोजा। उसे 300 रुपए देकर खेत पर मजदूरी के लिए लाया। रास्ते में एक हजार रुपए की शराब पिलाई। घटना दिनांक 13 अगस्त को खेत में अपने दो दोस्तों के साथ उनकी गर्दन काटी। सिर धड़ से अलग कर खेत में ही गाढ़ दिया। धड़ को खुद के कपड़े पहनाए। अपना आधार कार्ड भी जेब में रखा। सुबह पुलिस और परिजन ने उसे ही मृत समझा और अंतिम संस्कार कर दिया। आरोपी राजेश निश्चिंत होकर प्रेमिका के साथ शिवपुरी भाग गया। पुलिस ने जांच में यह खुलासा किया। 

बस एक गलती कर दी
आरोपी अपना मोबाइल भी साथ ले गया। पुलिस ने परिजन से उसका मोबाइल नंबर लिया और ट्रेस किया तो लोकेशन शिवपुरी की मिली। इसी आधार पर पुलिस उस तक पहुंच गई, तब यह साजिश सामने आई। यह वारदात है उन्हेल के जियाजीगढ़ मार्ग पर 13 अगस्त को मिली सिर कटी लाश की। आरोपी राजेश नाथ सहित उसकी प्रेमिका को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। मजदूर का नाम लक्की है, यह जानकारी आरोपी ने ही पुलिस को दी है लेकिन अब तक यह पता नहीं चल पाया है कि वो कहां का रहने वाला है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com