Loading...

केरल: 26 बाढ़ पीड़ितों की जान बचाने मकान की छत पर हेलीकॉप्टर लेंड करा दिया | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। केरल में पिछले 10 दिनों से भारी बारिश हो रही है। राज्य के 12 जिलों में बाढ़ से हालात हैं। बाढ़ में फंसे लोगों को बचाने के लिए सेना, नौसेना, एयरफोर्स और एनडीआरएफ की टीमें दिन-रात काम कर रही हैं। नौसेना की टीम के सदस्य और शौर्य चक्र विजेता कैप्टन पी राजकुमार ने शुक्रवार को एक मकान की छत पर सी किंग 42बी हेलिकॉप्टर उतारकर 26 लोगों की जिंदगी बचाई। 

नौसेना ने बताया कि नवम्बर-दिसम्बर 2017 के दौरान भारत के दक्षिणी तट पर ओचकी साइक्लोन आया था। उस दौरान कैप्टन राजकुमार ने अपनी टीम के साथ मिलकर समुद्र में फंसे 218 लोगों को निकाला। उन्होंने आधी रात में इस ऑपरेशन को अंजाम दिया। इसके लिए राजकुमार को शौर्य चक्र दिया गया। नौसेना के प्रवक्ता ने राजकुमार के साहसिक प्रयास का एक वीडियो भी री-ट्वीट किया।

केरल भारी बारिश और बाढ़ से 324 की मौत:  
केरल में भारी बारिश हो रही है। राज्य में अब तक 324 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं और तीन लाख से ज्यादा लोग बेघर हो गए हैं। सरकार ने पूरे राज्य में 2094 राहत शिविर बनाए हैं। वहीं, बचाव और राहत कार्य के लिए 40 हजार पुलिसकर्मी, 3200 फायर टेंडर, नौसेना की 46 टीमें, एयरफोर्स की 13, आर्मी की 16 और एनडीआरएफ की 21 टीमें तैनात की गई हैं।

अब तक 3000 लोग बचाए गए : 
नौसेना के अफसरों ने बताया कि शुक्रवार को 310 लोगों को नाव और 176 को हेलिकॉप्टर की मदद से बचाया गया। अब तक तीन हजार से ज्यादा लोगों को बाढ़ग्रस्त इलाकों से निकाला गया। केरल के तीन जिले थिसरूर, एर्नाकुलम और पठानमथिट्‌टा में काफी ज्यादा दिक्कत है। नौसेना की एक टीम वहां भी भेजी गई है। इसके लिए एएलएच, सी किंग, चेतक और एमआई-17 जैसे वायुयानों को बचाव कार्य में लगाया गया है।
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com