Loading...

बॉय फ्रेंड से नाराज लड़की ने VIDEO CALL कर लगाई फांसी। GWALIOR CRIME NEWS

GWALIOR: ग्वालियर शहर के दाल बाजार क्षेत्र में एक व्यापारी की बेटी ने शुक्रवार शाम को फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। उसका ब्वॉयफ्रेंड से झगड़ा हो गया तो उसने उसे वाॅट्सएप पर वीडियो कॉल किया। फिर ब्वॉय फ्रेंड के सामने ही गले में दुपट्टा डालकर फंदा बनाया और पंखे से लटक कर फांसी लगा ली। उसका ब्वाॅयफ्रेंड रोकता रहा लेकिन वह नहीं मानी और फंदे पर झूल गई। घबरा कर युवक उसके घर पहुंचा। दरवाजा तोड़कर अंदर घुसा और उसे फंदे से उतारा। उसे अस्पताल भी ले गया, तब तक युवती की सांसें थम चुकी थीं। कुछ देर बाद युवती के परिजन भी अस्पताल पहुंच गए। युवती के पिता ने उसके ब्वॉयफ्रेंड को मौत का जिम्मेदार बताया है। कोतवाली थाना पुलिस ने उसे पूछताछ के लिए हिरासत में ले लिया है।

 अनिल जैन निवासी लोहिया बाजार सोनी जी की बगिया गल्ला व्यापारी हैं। दाल बाजार में उनकी दुकान है। उनकी बेटी सृष्टि उर्फ वर्षा जैन (20) बीएससी फर्स्ट ईयर की छात्रा थी। उनका बेटा सर्वज्ञ इंदौर में पढ़ता है और छोटा बेटा कक्षा-6 का छात्र है। अनिल मूल रूप से भिंड के ग्राम मौ के रहने वाले हैं। उनके गांव में गुरुपूर्णिमा पर धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन था, इसलिए वह पत्नी व छोटे बेटे के साथ भिंड गए थे। घर पर उनकी बेटी सृष्टि अकेली ही थी। दाल बाजार में रहने वाले अर्पित पुत्र अमन जैन से सृष्टि की दोस्ती थी। दोनों में फोन पर झगड़ा हो गया। इसके बाद सृष्टि ने अर्पित को वाॅट्सएप पर वीडियाे कॉल किया। इसके बाद उसने गले में दुपट्टा डाला और फांसी लगा ली। अर्पित अपने दोस्त के साथ तुरन्त उसके घर भागा। घर का दरवाजा बंद था तो उसने दरवाजा तोड़ा और अंदर घुसा। इसके बाद सृष्टि को उतारकर निजी अस्पताल ले गया। जहां डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। अस्पताल से पुलिस को सूचना दी गई। इतने में सृष्टि के मोबाइल पर परिजनों का कॉल आया तो अर्पित ने उन्हें पूरी बात बताई। कुछ देर बाद परिजन भी ग्वालियर पहुंचे।पुलिस ने जांच के लिए दोनों के मोबाइल जब्त कर लिए हैं।

मैं पहले अपने ताऊ के मेडिकल स्टोर पर बैठता था। दो महीने से इंदौर में रह रहा हूं, क्योंकि मेरी नौकरी एक दवा कंपनी में लग गई है। सृष्टि मुझे अपने साथ ले जाने की जिद कर रही थी। जबकि मैंने कहा कि शादी के बाद साथ रहेंगे। उसके परिजनों को हमारी दोस्ती के बारे में पता था। लेकिन वह शादी को राजी नहीं थे। मेरे मना करने पर वह सुबह से ही बात नहीं कर रही थी। मेरा कॉल ही नहीं उठाया। शाम को वाट्सएप पर वीडियो कॉल किया। सामने फांसी लगा रही थी। मैंने रोका, बचाने घर भी गया लेकिन तब तक उसने फांसी लगा ली। - अर्पित जैन, सृष्टि उर्फ वर्षा का दोस्त

मुझे पता ही नहीं था कि सृष्टि अर्पित से बात करती है। उसके कारण ही मेरी बेटी ने फांसी लगाकर आत्महत्या की है। उसी ने बताया था कि झगड़े के बाद उसने फांसी लगा ली। - अनिल जैन, गल्ला व्यापारी


युवती के आत्महत्या करने के बाद अर्पित जैन को जब पुलिस थाने ले गई तो वह थाने में बेहोश हो गया। कुछ देर बाद वह होश में आया। थाने में भी वह रो रहा था। वह बार-बार कह रहा था कि अगर पांच मिनट पहले पहुंच जाता तो सृष्टि बच जाती।