नई योजनाओं के लिए पैसा कहां से लाओगे: कमलनाथ, टैक्स लगाकर लाएंगे: शिवराज सिंह | MP ELECTION NEWS

04 July 2018

भोपाल। कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने 4 जुलाई को सीएम शिवराज सिंह चौहान से सवाल किया है कि वो लगातार नई योजनाओं की घोषणा कर रहे हैं। प्रदेश कर्ज में डूबा हुआ है। योजनाओं के लिए पैसा कहां से लाएंगे। कमलनाथ ने यह भी कहा कि शिवराज सिंह उनके सवालों का जवाब नहीं देते। हालांकि सीएम शिवराज सिंह इस सवाल का जवाब 2 जुलाई को ही दे चुके हैं। सागर जिले के खुरई में बीना सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन के अवसर पर आयोजित समारोह उन्होंने कहा था कि वो अमीरों से कर के रूप में पैसा लेकर गरीबों की योजनाओं में लगाएंगे। 

प्रदेश की वित्तीय स्थिति भयावह दौर में, शिवराज मौन तोड़ें 

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने कहा है कि प्रदेश की वित्तीय स्थिति भयावह दौर से गुजर रही है। प्रदेश बड़े आर्थिक संकट से जूझ रहा है। ऐसा ही चलता रहा तो ओवर ड्राफ्ट की स्थिति बन सकती है। अभी ओवर ड्राफ्ट के पहले की वेज एंड मीन्स की स्थिति बनने जा रही है। कमलनाथ ने कहा है कि उन्होंने पूर्व में भी प्रदेश की आर्थिक स्थिति के संबंध में मुख्यमंत्री को श्वेत पत्र जारी करने की मांग को लेकर पत्र लिखा था, लेकिन उसका उन्होंने आज तक कोई जबाव नहीं दिया। आज प्रदेश का हर नागरिक वित्तीय स्थिति को लेकर भयभीत है। उनके द्वारा कई बार प्रदेश की वित्तीय स्थिति पर सवाल उठाने के बाद भी शिवराजसिंह ने अपना मौन नहीं तोड़ा। 

नई योजनाओं का पैसा कहां से आएगा

कमलनाथ ने कहा है कि शिवराजसिंह चुनावी वर्ष में चुनाव जीतने के लिए नित नई घोषणाऐं कर रहे हैं व नित नई योजनाऐं ला रहे हैं। शिवराजसिंह की पुरानी हजारों घोषणाऐं आज तक पूरी होने के इंतजार में हैं, ऐसे में नई घोषणाऐं कैसे और कब पूरी होंगी? इसके लिए राशि कहां से आयेगी? ये सवाल प्रदेश के हर नागरिक के जेहन में है। 

मध्प्रदेश पर 1.75 लाख करोड़ रुपए का कर्ज

श्री नाथ ने कहा कि प्रदेश का वित्त विभाग भी वित्तीय स्थिति को लेकर सरकार को निरंतर चेता रहा है। प्रदेश पर आज करीब पौने दो लाख करोड़ का कर्ज है। इस वित्तीय वर्ष में तीन बार सरकार बाजार से कर्ज ले चुकी है। सरकार हाल ही में ग्यारह हजार करोड़ का अनुपूरक बजट लेकर आई है। वित्तीय स्थिति के हाल यह हैं कि प्रदेश के सवा चार लाख कर्मचारियों में से अधिकांश के खाते में अब तक सातवें वेतनमान के ऐरियर्स की पहली किश्त अभी तक नहीं आई है। यह किश्त 31 मई तक आना थी।

प्रचार प्रसार पर करोड़ों क्यों लुटा रहे हैं

कमलनाथ ने कहा है कि प्रदेश में बढ़ते कर्ज की स्थिति को देखते हुए सरकार को नये कर्ज लेने पर अविलंब रोक लगाना चाहिए। स्थिति दिन-प्रतिदिन भयावह होती जा रही है। 31 मार्च 2003 तक प्रदेश पर केवल 20 हजार 147 करोड़ 34 लाख का कर्ज था जो अब बढ़कर पौने दो लाख करोड़ के करीब हो गया है। सरकार को नई घोषणाऐं न कर पहले पुरानी घोषणाओं को पूरा करना चाहिए। लेकिन शिवराज सरकार चुनाव जीतने के लिए प्रतिदिन लोकलुभावन घोषणाऐं कर मतदाताओं को गुमराह व प्रभावित करने में लगी है। करोड़ों रूपये खुद की ब्रांडिंग और प्रचार-प्रसार पर खर्च किये जा रहे हैं। उन्होंने मांग की है कि प्रदेश पर आये इस वित्तीय संकट पर मुख्यमंत्री शिवराजसिंह स्थिति स्पष्ट करें व अपना मौन तोड़े? 

शिवराज सिंह ने बताया नई योजनाओं के लिए पैसा कहां से आएगा

सागर 2 जुलाई। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों की हालत में सुधार के लिए आज नया सूत्र देते हुए कहा कि देश के अमीरों से कर के रुप में धनराशि लेकर इसे गरीबों के लिए संचालित योजनाओं में लगाया जाएगा। सीएम ने सागर जिले के खुरई में बीना सिंचाई परियोजना के भूमिपूजन के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित किया। चौहान ने अपने भाषण में कांग्रेस और उसके नेताओं का बार बार नाम लिया और कहा कि उन्होंने गरीबी हटाओ का नारा दिया लेकिन गरीबी हटाने के लिए भाषण के अलावा कुछ नहीं किया। गरीबी भाषण से नहीं हटती है और इसके लिए कुछ करना पड़ता है। उन्होंने कहा कि सरकार बड़े उद्योगपतियों से कर के रूप में पैसे लेकर इसका उपयोग गरीबों के हित संबंधी योजनाओं में करेगी। 

दिग्विजय सिंह हमेशा पैसे का रोना रोते रहते थे: शिवराज सिंह

चौहान ने बीना सिंचाई परियोजना का जिक्र करते हुए कहा कि कांग्रेस सरकार के तत्कालीन मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह योजनाओं के लिए पैसे का रोना सदैव रोते रहते थे। उनका कहना रहता था कि सरकार के पास तनख्वाह बांटने के लिए ही पैसा नहीं है, तो वे योजनाएं कहां से बनाएं। वहीं मौजूदा सरकार के पास पैसे की कमी नहीं है। तनख्वाह भी बांटी जा रही है और किसानों समेत सभी के लिए योजनाएं बनाकर क्रियान्वित भी की जा रही हैं। इसी सोच के साथ भाजपा सरकार लगातार कार्य कर रही है और आगे भी करती रहेगी। चौहान ने कहा कि वर्तमान दौर में भी कांग्रेस के नेता विभिन्न बातों को लेकर सिर्फ भ्रम फैलाने का कार्य कर रहे हैं। लेकिन आम लोग सब समझ रहे हैं और कांग्रेस नेता अपने मंतव्य में सफल नहीं हो पाएंगे। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->