MP BOARD: मप्र के 1700 प्राइवेट स्कूलों के नाम ब्लॉक, 4.5 लाख स्टूडेंट्स प्रभावित | MP EDUCATION NEWS

27 July 2018

भोपाल। प्रदेश के 1700 और राजधानी के डेढ़ दर्जन से अधिक प्राइवेट स्कूलों के नाम माध्यमिक शिक्षा मंडल (माशिमं) ने वेबसाइट से हटा दिए हैं। इससे प्रदेश के लगभग साढ़े चार लाख विद्यार्थी नियमित परीक्षा फार्म नहीं भर सकेंगे। माशिमं (Madhya Pradesh Board of Secondary Education) द्वारा कई बार अवसर देने के बावजूद इन स्कूलों ने पिछले कई सालों से संबद्धता शुल्क जमा नहीं किया है। इसलिए मंडल ने प्रदेश के 1700 प्राइवेट स्कूलों के नाम ब्लॉक कर दिए हैं। 

हालांकि, माशिमं ने इन स्कूलों को आखिरी मौका देते हुए संबद्धता शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख 12 अगस्त तक बढ़ा दी है। माशिमं का कहना है कि स्कूल संचालक जैसे ही ऑनलाइन शुल्क जमा करेंगे, वैसे ही स्कूल का नाम वेबसाइट पर अपलोड हो जाएगा। प्राइवेट स्कूलों का कहना है कि माशिमं ने इस साल संबद्धता शुल्क भी बढ़ा दिया है। जिसकी सूचना निजी स्कूल संचालकों को नहीं दी गई है।

31 जुलाई तक नामांकन की तारीख
स्कूलों में दाखिले का दौर जारी है, 31 जुलाई तक नामांकन होंगे। 1700 स्कूलों की संबद्धता समाप्त होने से इनमें पढ़ने वाले करीब साढ़े चार लाख छात्र-छात्राओं का भविष्य अधर में है। अगर ये सभी स्कूल समय रहते संबद्धता शुल्क जमा नहीं करते हैं, तो सभी विद्यार्थी रेगुलर पढ़ाई करने के बावजूद अनियमित हो जाएंगे। स्कूल संचालकों का कहना है कि माशिमं ने नोटिस दिए बगैर स्कूलों की संबद्धता समाप्त कर दी है। प्रदेश में करीब 60 हजार निजी स्कूल हैं। इनमें से भोपाल के 20 स्कूलों सहित 1700 स्कूलों के नाम माशिमं की सूची से हटा दिए हैं।

संबद्धता शुल्क बढ़ाने से संचालक परेशान
हाईस्कूल व हायर सेकंडरी तक की संबद्धता के लिए मंडल में 4200 रुपए जमा करने पड़ते थे। मंडल ने इस साल इस राशि बढ़ाकर 12 हजार रुपए कर दी है। मंडल द्वारा ऐसे स्कूलों से भी बढ़ा हुआ शुल्क लिया जा रहा है, जिनकी संबद्धता वर्ष 2018-19 तक है, लेकिन पिछले वर्ष शुल्क जमा नहीं कर सके थे।

संबद्धता शुल्क जमा करें
माशिमं ने किसी भी प्राइवेट स्कूल की संबद्धता समाप्त नहीं की है। कई स्कूलों ने संबद्धता शुल्क दो-तीन वर्षों से जमा नहीं किया है, उनके नाम लिस्ट में ब्लॉक कर दिए गए हैं। जैसे ही स्कूलों द्वारा संबद्धता शुल्क जमा हो जाएगी वैसे ही उनका नाम बहाल हो जाएगा। अब शुल्क जमा करने की अंतिम तारीख 12 अगस्त तक कर दी गई है - अजय सिंह गंगवार, सचिव, माशिमं

पहले नोटिस देना चाहिए
माशिमं को संबद्धता समाप्त करने से पहले नोटिस देना था। स्कूलों की संबद्धता समाप्त होने से लाखों विद्यार्थियों का भविष्य संकट में है। मंडल ने संबद्धता शुल्क बढ़ा दिया है। 
अजीत सिंह, प्रांताध्यक्ष, मप्र प्राइवेट स्कूल एसोसिएशन
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week