Loading...

मप्र में सुर्ख हुआ किसान आंदोलन: नरसिंहपुर में सब्जियां फैंकी, रायसेन में दूध चढ़ाया

भोपाल। मप्र में 1 जून से चल रहा किसान आंदोलन गांव बंद हड़ताल अब तक शांतिपूवर्क जारी था परंतु अब सुर्ख होता नजर आ रहा है। नरसिंहपुर में किसानों से सब्जियां फैंक दीं जबकि रायसेन में पीपल पर दूध चढ़ा दिया गया। नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा में सुबह राष्ट्रीय किसान मजदूर संघ के किसानों ने शांति दूध चौराहे पर एकत्र होकर सब्जी सड़कों पर फेंकी और नारेबाजी की। 

नीमच में किसान आंदोलन के मद्देनजर महू-नसीराबाद रोड (नेशनल हाई-वे क्रमांक 79) स्थित हरकिया खाल फंटे पर पुलिस बल मुस्तैद है। अन्य स्थानों पर भी पुलिस की पेट्रोलिंग व नाकेबंदी जारी है। शाजापुर में आंदोलन का कोई असर नहीं। प्याज मंडी में अच्छी आवक रहीं, सिर्फ पहले दिन ही आवक हुई थी प्रभावित। सब्जी मंडी में पुलिस तैनात है। कोई गड़बड़ की सूचना नहीं है। आगर में भी शांति का माहौल है।
BHOPAL SAMACHAR | HINDI NEWS का 
MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए 
प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

रायसेन : पीपल के पेड़ पर चढ़ाया दूध

इधर रायसेन में सुबह स्थिति सामान्य रही लेकिन दोपहर में किसान विरोध जताते हुए सड़कों पर उतरे। सलामतपुर में किसानों ने सब्जी सड़क पर फेंककर विरोध जताया। किसान जागृति संगठन के आह्वान पर क्षेत्र के किसान अपनी उपज एवं दूध लेकर पहुंचे। गांव बंद आंदोलन के समर्थन में किसानों ने जूलूस निकाला। दूध उत्पादक किसानों ने दूध से पीपल के पेड़ का अभिषेक किया। इन किसान अपनी मांगों के समर्थन में आंदोलन जारी रखने की बात कही। वहीं सब्जी का उचित मूल्य नहीं मिलने के कारण अन्य किसानों ने अपनी सब्जी सड़कों पर फेंकी।