दुनिया का सबसे ईमानदार पत्रकार, 6 साल से 6x3 के एक कमरे में रह रहा है - Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh)

Bhopal की ताज़ा ख़बर खोजें





दुनिया का सबसे ईमानदार पत्रकार, 6 साल से 6x3 के एक कमरे में रह रहा है

27 June 2018

नई दिल्ली। पत्रकार जूलियन असांजे को शायद कुछ कम लोग जानते होंगे परंतु विकीलीक्स को कौन नहीं जानता। असांजे विकीलीक्स के संस्थापक हैं जिन्होंने सरकारें हिला देने वाले दस्तावेज लीक किए। चाहते तो इनमें से कुछ दस्तावेजों को जारी करने से रोककर करोड़ों कमा सकते थे परंतु उन्होंने ऐसा नहीं किया। देश और समाज के लिए जान जोखिम में डालने वाला यह पत्रकार पिछले 6 साल से 6x3 के एक कमरे में जिंदगी गुजार रहा है। जूलियन असांजे को लंदन में इक्वाडोरियन एम्बेसी में एक स्टूडियो अपार्टमेंट दिया गया है। मार्च 2018 से उनका इंटरनेट कनेक्शन भी काट दिया गया है। अमेरिका का सीक्रेट डेटा अपनी वेबसाइट पर लीक करने और दुष्कर्म जैसे गंभीर आरोपों के बाद गिरफ्तारी के डर से असांजे ने 2012 में दूतावास में शरण ली थी। अमेरिका उनके खिलाफ जांच चला रहा है। उन्हें जान से मारने की धमकियां मिल चुकी हैं। 

47 साल के असांजे को पनाह देने के बारे में इक्वाडोर का तर्क है कि असांजे के ख्यालों की आजादी और प्रेस फ्रीडम के चलते किसी भी पल ऐसी स्थिति बन सकती है जब उनकी जिंदगी खतरे में आ जाए। इक्वाडोर के पूर्व राष्ट्रपति रफारल कोरेया कह चुके हैं कि असांजे जब तक चाहें उनके दूतावास में रह सकते हैं। असांजे दूतावास की एक बालकनी में आकर स्पीच देते हैं।

जमीन पर सोते हैं असांजे
असांजे के कमरे में नीचे बिछाने वाला एक बिस्तर, फोन, सन लैम्प, कम्प्यूटर, शाॅवर, ट्रेडमिल और किचन है। जब से वे दूतावास में रहने आए हैं, यहां आने वाले मेहमानों की संख्या अचानक बढ़ गई है। विजिटर में लेडी गागा तक शामिल हैं। दूतावास को अपना स्टाफ बढ़ाकर दोगुना करना पड़ा है। बाहर पुलिस तैनात की गई है। छोटा-सा दूतावास छह साल से बड़े महत्व वाला हो गया है।

हर दिन 8 किमी दौड़ते हैं असांजे
लंदन के मशहूर टीवी डायरेक्टर केल लोच ने असांजे को ट्रेडमिल गिफ्ट किया है जिस पर हर दिन वो 8 किलोमीटर दौड़ लगाते हैं। हर दूसरे दिन वे ब्रिटेन के पूर्व स्पेशल एयर सर्विस के ऑफिसर के साथ वर्कआउट भी करते हैं। बाथरूम उन्हें शेयर करना पड़ता है। कमरे के एक कोने में उन्होंने गोल मीटिंग टेबल रखा है, जहां पत्रकारों और साथियों से मुलाकात करते हैं। एक खिड़की है और उसके सामने 4 अलमारियां हैं। ये अलमारियां फाइल, सीडी, पेन और प्रिंटर से भरी पड़ी हैं। यहां दूतावास के स्टाफ से बात करने के लिए स्पैनिश डिक्शनरी है और क्यूबा के शहर गुआनतनामो पर एक किताब। कहा ये भी जाता है कि वे अपने फर्नीचर की जगह भी बार-बार बदलते रहते हैं।

छह महीने में एक बार भी बाहर नहीं आए
असांजे दिन के 17 घंटे काम करते हैं, लेकिन फिर भी फिल्में देखना बंद नहीं करते। पिछले छह सालों में उन्होंने एक बार भी इस इमारत से पैर बाहर नहीं रखा है। असांजे का इंटरनेट कनेक्शन इसलिए काटा गया क्योंकि उन्होंने लिखित में वादा किया था कि वह बाकी देशों से रिश्तों को लेकर कोई मैसेज नहीं करेंगे, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया।

असांजे ने विकीलीक्स की वेबसाइट पर इराक युद्ध से जुड़े 4 लाख दस्तावेज सार्वजनिक किए थे। इसके जरिए उन्होंने अमेरिका, इंग्लैंड और नाटों की सेनाओं पर युद्ध अपराध का आरोप लगाया था। यह भी आरोप है कि अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के दौरान रूसी खुफिया एजेंसियाें ने हिलेरी क्लिंटन के कैम्पेन से जुड़े ईमेल हैक कर विकीलीक्स को दे दिए थे।
इसी तरह की खबरें नियमित रूप से पढ़ने के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->