PayTm का फर्जी एप: दुकानदार को लगी बड़ी चपत

28 June 2018

कुछ शरारती लोगों ने PayTm के फर्जी ऐप का इस्तेमाल करते हुए दुकानदार को बड़ी चपत लगाई है। यह मामला हैदराबाद का है, जहां इन लोगों ने सामान खरीदने के बाद दुकानदार को फर्जी पेमेंट आईडी दिखाकर उसे चपत लगाई है। डेक्कन क्रॉनिकल की एक रिपोर्ट के मुताबिक, हैदराबाद टास्क फोर्स ने इस मामले की जांच करने के लिए एक केस रजिस्टर कर लिया है। दुकानदार को इस गड़बड़ी का पता तब चला, जब उसने पेमेंट्स का मिलान किया। दुकानदार ने पाया कि उसे ऐसा कोई पेमेंट किया ही नहीं गया है। हैदराबाद पुलिस की जांच में यह बात सामने आई है कि जब यूजर किसी प्रैंक ऐप को डाउनलोड करता है तो यूजर के पास मेसेज आता है कि इस ऐप की मदद से आप दोस्तों के साथ मजाक कर सकते हैं।

अभी भी PayTm के फर्जी एप होने का संदेह

इसके अलावा, ऐप यह वॉर्निंग भी देता है कि इसके किसी भी गलत इस्तेमाल की जिम्मेदारी यूजर पर ही होगी। हैदराबाद टास्क फोर्स ऐप के डिवेलपर और प्रमोटर्स की भी जांच कर रही है। इस घटना के सामने आने के बाद फेक ऐप को मोडिफाइड कर दिया गया है। हालांकि, चिंता अब भी बनी हुई है क्योंकि गूगल प्लेस्टोर पर पेटीएम से जुड़े फर्जी ऐप्स मौजूद हैं। 

PayTm का पूर्व कर्मचारी गिरफ्तार 

इसके अलावा, राचाकोंडा की साइबर सेल पुलिस ने हाल में पेटीएम के एक पूर्व कर्मचारी को गिरफ्तार किया है। यह व्यक्ति KYC डिटेल्स अपडेट करने के बहाने लोगों को ठग रहा था। पिछले कुछ महीने से फर्जी ऐप इस्तेमाल के मामले बढ़े हैं।

PayTm को पता क्यों नहीं चला

PayTm एक मोबाइल एप है। पूरी कंपनी आॅनलाइन करोबार करती है। स्वभाविक है PayTm के पास अपने साइबर सुरक्षा गार्ड भी होंगे जो यह सुनिश्चित करते होंगे कि PayTm के एप को कहीं कोई नुक्सान ना पहुंचा दे। इस टीम को पता चल जाना चाहिए था कि प्ले स्टोर पर फर्जी एप भी है और PayTm को फर्जी एप के खिलाफ तत्काल कार्रवाई करनी चाहिए थी परंतु ऐसा नहीं हुआ।  इसी तरह की खबरें नियमित रूप से पढ़ने के लिए MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com


-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Popular News This Week