पीएम मोदी की सभा में भीड़ जुटाने सरकारी स्कूलों के छात्रों को उपस्थित रहने के आदेश

Friday, June 22, 2018

इंदौर। सत्ता विरोधी लहर का सामना कर रही शिवराज सिंह सरकार को अब पीएम मोदी पर भी भरोसा नहीं रहा। सरकार कतई आश्वस्त नहीं है कि पीएम नरेंद्र मोदी की सभा में इंदौर एवं आसपास के गरीब, ग्रामीण, किसान और इंदौर शहर के सभ्य नागरिक उपस्थित होंगे अत: भीड़ जुटाने के लिए सभी सरकारी स्कूलों को आदेशित किया गया है कि वो अपने अपने स्कूल से 50-50 छात्र अनिवार्य रूप से भेजें। प्राइवेट बस आॅपरेटर्स ने मोदी की सभा के लिए बसें उपलब्ध कराने से इंकार कर दिया तो स्कूल बसें अध्रिहित कर ली गईं, और स्कूलों की जबरन छुट्टी कर दी गई।

यूनिवर्सिटी को दिया 20 हजार स्टूडेंट्स का टारगेट
हर स्कूल से 50-50 छात्रों के अलावा देवी अहिल्या यूनिवर्सिटी को 20 हजार स्टूडेंट्स लाने का टारगेट दिया गया है। इससे पहले इंदौर के सभी विधायकों से कहा गया था कि वो 5-5 हजार लोगों को अपनी विधानसभा से लाएं परंतु विधायकों ने साफ मना कर दिया। इसके बाद आनन-फानन यह नए प्रबंध किए गए। बता दें कि नेहरू स्टेडियम की अधिकतम क्षमता मात्र 35000 है। यदि इंदौर के सभी प्रशासनिक अधिकारी, सुरक्षा बल और स्टूडेंट्स आ गए तो आम जनता के लिए जगह ही नहीं बचेगी। सवाल यह है कि क्या सरकार को इतना भी भरोसा ​नहीं ​है कि पीएम मोदी को सुनने के लिए इंदौर की 40 लाख आबादी में से 40 हजार भी नहीं आएंगे। 

स्वच्छ सर्वेक्षण के विजेताओं को पुरस्कार
पीएम मोदी शहरी स्वच्छ सर्वे 2018 में विजेता प्रथम तीन शहर इंदौर, भोपाल और चण्डीगढ़ के प्रतिनिधियों को कार्यक्रम में पुरस्कार प्रदान करेंगे। गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के दो शहर इंदौर और भोपाल ने स्वच्छ सर्वेक्षण-2017 की रेकिंग में पहला और दूसरा स्थान हासिल किय है। कार्यक्रम में स्वच्छ सर्वेक्षण-2018 पर बनाई गई फिल्म और रिपोर्ट का प्रदर्शन होगा। पीएम स्वच्छ सर्वेक्षण पर प्रकाशित पुस्तक का विमोचन भी करेंगे।

'सूत्र सेवा' का शुभारंभ
पीएम मोदी मध्यप्रदेश के 20 चुनिंदा शहरों में शुरू की जा रही विश्वसनीय, सुरक्षित और किफायती बस सेवा के तहत 'सूत्र सेवा-मध्यप्रदेश की अपनी बस' का शुभारंभ करेंगे। इस योजना में नगरीय विकास और आवास विभाग निजी भागीदारी से अमृत योजना के तहत शहर के अंदर और बाहर बस सेवा उपलब्ध करवाएगा। इस सेवा के प्रथम चरण में प्रधानमंत्री द्वारा उद्घाटन करने के साथ ही 4 नगर निगम भोपाल, इंदौर, जबलपुर और छिन्दवाड़ा तथा दो नगरपालिका गुना और भिण्ड के लिए 127 बसों का संचालन शुरू हो जाएगा।

4063 करोड़ से निर्मित आवासों में गृह-प्रवेश
कार्यक्रम में हाउसिंग फॉर ऑल की अवधारणा के अंतर्गत प्रदेश के सभी 374 नगरीय निकायों में 4,063 करोड़ रुपए लागत से निर्मित 1 लाख 219 प्रधानमंत्री आवास में हितग्राहियों को एक साथ गृह-प्रवेश करवाया जाएगा।

स्मार्ट सिटी के 23 कार्यों का लोकार्पण
स्मार्ट सिटी मिशन के अंतर्गत 5 स्मार्ट सिटी इंदौर, भोपाल, जबलपुर, ग्वालियर और उज्जैन में 278 करोड़ 26 लाख रुपए की लागत से कराये गये 23 कार्यों का लोकार्पण भी प्रधानमंत्री द्वारा किया जाएगा।

227.78 करोड़ की 14 पेयजल योजनाओं का शुभारंभ
पीएम मोदी कार्यक्रम में मुख्यमंत्री शहरी पेयजल योजना के अंतर्गत 14 नगरीय क्षेत्रों की पेयजल योजनाओं का शुभारंभ करेंगे। इनमें नगर पालिका धर्मपुरी (धार), नगर पालिका रायसेन, बेगमगंज, अब्दुल्लागंज, बैरसिया (भोपाल), आठनेर (बैतूल), बाढवद (रतलाम), डिडौरी, लखनादौन (सिवनी), नरसिंहपुर, सबलगढ़, बामौर, पौरसा (मुरैना) तथा बमौरी (शहडोल) की पेयजल योजना सम्मलित की गई है।

8.31 करोड़ के 10 पार्कों का लोकार्पण

वहीं, अमृत योजना के अंतर्गत 10 नगरीय क्षेत्रों में पार्कों का लोकार्पण किया जाएगा।
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week