मंदसौर गैंगरेप: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की CBI जांच की मांग - Bhopal Samachar | No 1 hindi news portal of central india (madhya pradesh)

Bhopal की ताज़ा ख़बर खोजें





मंदसौर गैंगरेप: ज्योतिरादित्य सिंधिया ने की CBI जांच की मांग

30 June 2018

भोपाल। मंदसौर में 7 साल की मासूम बच्ची के साथ हुई सामूहिक हैवानियत के मामले में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने सीबीआई जांच की मांग की है। सिंधिया ने आज जारी बयान में कहा कि सामूहिक बलात्कार के मामले में एफआईआर दर्ज करने में पुलिस ने देरी की है। अभी भी जांच सही दिशा में नहीं जा रही, इसलिए हम इस मामले में सीबीआई जांच की मांग करते हैं। सिंधिया इंदौर में निकलने वाले कैंडिल मार्च में भी शामिल होंगे। इससे पहले कांग्रेस नेता विवेक तन्खा ने सीएम शिवराज सिंह से अपील की है कि वो पीड़िता का किसी अच्छे अस्पताल में इलाज कराएं। उसे एयर ऐंबुलेंस से दिल्ली लेकर जाएं। तन्खा ने संदेह जताया कि इंदौर के एम वाय अस्पताल में उसे वह इलाज नहीं मिल रहा है जिसकी उसे आवश्यकता है। 

महिला के प्रति जघन्य अपराधों का गढ़ बन गया है मप्र: सुरजेवाल

कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाल का कहना है कि मंदसौर की हैवानियत व बर्बरता दिल देहला देने वाली है। भाजपा के राज्य में मध्य प्रदेश, महिलाओं के ख़िलाफ़ हो रहे जघन्य अपराधों का गढ़ बन गया है। लोगों का ग़ुस्सा जायज़ है। ऊपर से पीड़ित परिवार के लोगों को सांत्वना प्रदान करने के बजाय, भाजपाई सांसद उनसे "धन्यवाद" माँग रहें है। शर्मनाक! (यहां पढ़ें)

शिवराजजी, दोनों को जनता के हवाले कर दो: मनजिंदर सिरसा

अकाली दल पंजाब के नेता एवं विधायक मनजिंदर एस सिरसा ने बयान जारी किया है कि जितना मंदसौर की बेटी के बारे में सोच रहा हूँ उतना ही ख़ून खौल रहा है। आसिफ़ और इरफ़ान जैसे दरिंदो के लिये फाँसी की सज़ा बहुत कम है शिवराज सिंहजी, इन दोनों को जनता के हवाले कर दो; जनता फ़ैसला करे कि इन्हें पत्थरों से मारना है या जूते चप्पलों से या फिर चौराहे पर फाँसी देनी है! बता दें कि अकाली दल, एनडीए में शामिल पार्टी है। 
मध्यप्रदेश और देश की प्रमुख खबरें पढ़ने, MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com



-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Popular News This Week

 
-->