Loading...

OMG! रेलवे ने जारी कर दिया 1000 साल बाद का रिजर्वेशन टिकट

नई दिल्ली। यदि आप भारतीय रेल में एडवांस रिजर्वेशन कराना चाहते हैं तो यात्रा की तारीख से कितने दिन पहले करा सकते हैं। पहले यह समयसीमा 90 दिन थी, अब 120 दिन पहले करा सकते हैं लेकिन उत्तरप्रदेश के सहारनपुर में रेलवे काउंटर से 1000 साल बाद का रिजर्वेशन टिकट जारी कर दिया गया। मजेदार बात यह है कि यात्री 1000 साल पहले यात्रा करने के लिए ट्रेन में सवार हो गया और टीटीई ने उसे बेइज्जत कर उतार दिया। उपभोक्ता फोरम ने इस मामले में रेलवे पर मुआवजा ठोक दिया है। 

यह है मामला
यात्री विष्णु कांत शुक्ला 2013 में ट्रेन से सफर करने के लिए आरक्षित टिकट की मांग की थी। लेकिन उनके टिकट पर 2013 की जगह पर 1000 साल आगे की डेट 3013 छाप दी गई। विष्णु कांत शुक्ला रिटायर प्रफेसर हैं और 19 नवंबर 2013 को वह हिमगिरि एक्सप्रेस से सहारनपुर से जौनपुर की यात्रा करने के लिए ट्रेन में सवार हो गए। ट्रेन में टिकट चेक करने आए टीटीई ने देखा कि उनके टिकट पर 2013 की जगह पर 3013 की तारीख है। टीटीई ने उन्हें मुरादाबाद स्टेशन पर ट्रेन से उतार दिया। 

यात्री शुक्ला ने बताया कि टीटीई ने उन्हें सभी यात्रियों के सामने अपमानित किया। उन्होंने कहा, 'टीटीई ने मुझे 800 रुपए पेनल्टी देने की मांग की और मुझे मुरादाबाद स्टेशन पर ट्रेन से उतार दिया। मेरे लिए यह एक महत्वपूर्ण यात्रा थी क्योंकि मैं अपने एक मित्र के घर जा रहा था। मेरे दोस्त की पत्नी की मौत हो गई थी और मैं उसके घर जाने के लिए सफर कर रहा था।' 

सहारनपुर लौटने के बाद शुक्ला ने रेलवे के खिलाफ उपभोक्ता कोर्ट में जाकर शिकायत की। केस का फैसला आने में 5 साल लग गए। कोर्ट ने फैसला बुजुर्ग यात्री के पक्ष में दिया और रेलवे पर 10 हजार रुपए का हर्जाना और 3 हजार रुपए अतिरिक्त मुआवजे के तौर पर शुक्ला को देने का आदेश दिया।
देश और मध्यप्रदेश की बड़ी खबरें MOBILE APP DOWNLOAD करने के लिए (यहां क्लिक करेंया फिर प्ले स्टोर में सर्च करें bhopalsamachar.com