जातिवादी आरक्षण के खिलाफ ब्राह्मण समाज का जलसत्याग्रह

19 May 2018

भोपाल। राजधानी भोपाल में शनिवार को आराक्षण के विरोध में ब्राह्मण समाज सड़क पर उतर आया। आरक्षण खत्म करने की मांग करते हुए बड़ी संख्या में लोग पैदल मार्च कर शीतलदास की बगिया बड़ी झील पहुंचे और अर्ध नग्न होकर जल सत्याग्रह किया। उनका अारोप है कि शिवराज सरकार सवर्णों की अनदेखी कर रहा है। उनकी मांग है कि आरक्षण जाति नहीं आर्थिक आधार पर हो। गरीबी जाति देखकर नहीं आती। सभी गरीबों को समान रूप से सरकारी सहायता और आरक्षण मिलना चाहिए। प्रशासन जल सत्याग्रहियों को मनाने में लगा है।

मिली जानकारी अनुसार शनिवार सुबह प्रगतिशील ब्राह्मण मंच के बैनर तले बड़ी संख्या में सवर्ण समाज के लोगों ने पैदल मार्च किया। वे हाथों में बैनर और पोस्टर लिए बड़ी झील स्थित शीतलदास की बगिया पहुंचे और यहां अर्धनग्न होकर पानी में उतर गए। मंच के महासचिव चंद्रशेखर तिवारी ने सभी जल सत्याग्रह करने की वजह बताते हुए कहा कि हर स्तर पर आज सवर्णों की अनदेखी की जा रही है। चाहे वह पढ़ाई में हो, नौकरी में हो और तो और प्रमोशन में भी उन्हें पीछे ही खड़े होना पड़ रहा है। तिवारी ने प्रदेश सरकार सहित सभी राजनैतिक दलों को चेतावनी देते हुए कहा कि अब आरक्षण का समर्थन करके आप सरकार नहीं बना सकते।

जाति नहीं आर्थिक आधार पर लागू हो आरक्षण

आरक्षण जाति के नहीं आर्थिक आधार पर लागू किया जाना चाहिए। अभी सभी को दलों को सवर्णों के प्रति अपनी बात स्पष्ट रखनी होगी। आरक्षण के नाम पर राजनैतिक दल रोटियां सेंक रहे हैं और हमें लड़ा रहे हैं। अब ये सब नहीं चलेगा। सत्याग्रहियों की मांग है कि सरकार आरक्षण को जाति के बजाय आर्थिक आधार दे। आरक्षण में क्रीमलेयर होना चाहिए साथ ही पदोन्नति में आरक्षण समाप्त होना चाहिए।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Popular News This Week