भारत बंद का विरोध करने वालों पर SC/ST एक्ट के तहत मामला दर्ज | PUNJAB NEWS

Thursday, April 5, 2018

नई दिल्ली। सोमवार 2 अप्रैल को दलित संगठनों ने भारत बंद का आयोजन किया था। कई संगठनों ने इसका विरोध किया और संघर्ष की स्थिति भी बनी। पंजाब में ऐसे 26 नेताओं के खिलाफ SC/ST एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है जिन्होंने भारत बंद का विरोध किया था। इस​ लिस्ट में राष्ट्रीय हिंदू सेना के प्रमुख रजनीश कालू का नाम भी शामिल है। इसके अलावा 1525 अज्ञात लोगों के खिलाफ भी मामला दर्ज किया गया है। इन्हे आरोपित किया गया है कि बंद के दौरान हिंसा की और सार्वजनिक संपत्ति को नुक्सान पहुंचाया। समाचार लिखे जाने तक 1525 में से किसी को भी नामजद नहीं किया गया है। पुलिस का कहना है कि वह सीसीटीवी फुटेज खंगाल रहे हैं। पहचान कर इन पर बायनेम केस दर्ज किया जाएगा। 

सबसे ज्यादा होशियारपुर जिले के दसूहा व टांडा में 700 लोगों पर केस दर्ज किया है। सबसे कम लुधियाना में 15 दर्ज हुए। इसके अलावा बठिंडा में 80, जालंधर में 20 को नामजद किया गया है। फिरोजपुर में रेलवे पुलिस ने काम में बाधा डालने के आरोप में 360 लोगों पर पर्चा किया है। अमृतसर में भंडारी पुल जाम करने वाले 200 और कत्थूनंगल टोल प्लाजा के पास जाम लगाने वाले 50 लोगों पर केस दर्ज किया है। बठिंडा में तोड़फोड़ करने और युवक पर हमला करने के आरोपी युवक को कोर्ट ने जेल भेज दिया।

पुलिस की ओर से भारत बंद के दौरान शहर में धक्के से बाजार बंद करवाने के विरोध में व्यापारियों की ओर से मंगलवार की सुबह अपनी दुकानें बंद कर रोष व्यक्त किया गया। थाना मुखी गुरभजन सिंह ने व्यापारियों से बातचीत की और विश्वास दिलाया कि आगे से कोई परेशानी नहीं आने दी जाएगी, जिससे उनका व्यापार प्रभावित हो। ऐसे में दोपहर 12 बजे दुकानें खोल लीं गईं।

रेलवे को 210 करोड़ से ज्यादा का नुकसान
बंद के चलते रेलवे मंडल को 2 करोड़ से ज्यादा का नुकसान झेलना पड़ा। रेलवे मंडल की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार पैसेंजर रेलगाड़ियां रद्द होने से मंडल को 1,84,42,329.26 रुपए व मेल एक्सप्रैस रेलगाड़ियां रद्द होने से 1,44,52,14.60 रुपए सहित कुल 1,98,87,543.86 रुपए का नुकसान हुआ वहीं रेलवे मंडल को 422 अनारक्षित यात्रियों को 82635 रुपए व 3076 आरक्षित रेल यात्रियों को 11,27,090 रुपए रिफंड करने पड़े। इसके चलते कुल 2,10,97,268 रुपए का कुल नुकसान हुआ है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week