INDIA के 52 मेडिकल स्टूडेंट्स को जॉर्जिया एयरपोर्ट से वापस लौटाया | NATIONAL NEWS

11 April 2018

नई दिल्ली। मेडीकल की पढ़ाई करने के लिए गए भारत के 62 में से 52 छात्रों को जॉर्जिया एयरपोर्ट से वापस लौटा दिया गया। इसके पीछे क्या कारण थे, स्पष्ट नहीं किया गया है। जॉर्जिया एयरपोर्ट अथॉरिटी की तरफ से इस बारे में कोई स्पष्टीकरण नहीं आया है। पीड़ित छात्रों ने भारत के विदेश मंत्रालय से शिकायत की है। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मामले पर कार्रवाई करने की बात कही है। पीड़ितों में भोपाल, इंदौर और सेंधवा सहित मध्य प्रदेश के 9 छात्र-छात्राएं शामिल हैं। 

जानकारी के अनुसार, भारत से 62 स्टूडेंट्स मेडिकल की पढ़ाई करने के लिए 8 अप्रैल को जॉर्जिया गए थे। जहां छात्रों को एयरपोर्ट पर ही रोक लिया गया। मेडिकल छात्र-छात्राओं ने आरोप लगाया है कि उन्हें एयरपोर्ट पर जमीन पर बैठा दिया गया। पानी पीने और बाथरूम की इजाजत भी नहीं दी गई। एयरपोर्ट में घंटों बैठने के बाद उन्हें वापस भारत भेज दिया गया। छात्रों का कहना था कि पासपोर्ट भी एयर अरेबिया के विमान स्टाफ को यह कहकर दिया कि दिल्ली उतारने के बाद उन्हें दिया जाए।

दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचकर भी पासपोर्ट वापस लेने के लिए छात्र-छात्राओं को सुबह से शाम तक जद्दोजहद करनी पड़ी। बच्चों के साथ हुए ऐसे सलूक से खफा इंदौर के छात्र-छात्राओं के परिजनों ने विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को ट्वीट किया। इस पर मंत्री ने आश्वासन भी दिया कि भारतीय दूतावास मामले को देख रहा है। मंगलवार शाम दिल्ली में पहले मौजूद परिजन विदेश मंत्रालय गए और इस मामले की शिकायत भी की।

रंग और कद देखकर कुछ को चुना
इंदौर और सेंधवा से गईं दो बहनों ने नाम न प्रकाशित करने का अनुरोध करते हुए आरोप लगाया कि जार्जिया में एयरपोर्ट के स्टाफ ने बहुत बदसलूकी की। सारे दस्तावेज दिखाने के बाद भी वह नहीं मानें। गहरे रंग और छोटे कद वाले 10 विद्यार्थियों को चुनकर जाने दिया और बाकी को जमीन पर बैठाकर रखा। कोई उनकी बात सुनने को तैयार नहीं था। बतौर भारतीय हम लोगों ने बहुत अपमानित महसूस किया। जार्जिया के डी-3 वीजा (पढ़ाई के लिए जारी होने वाला वीजा) के लिए भी विद्यार्थियों को लगभग छह महीने इंतजार करना पड़ा था। वहां कक्षाएं लगभग पांच महीने पहले ही शुरू हो चुकी हैं। अभिभावकों ने 25-30 लाख रुपये सालाना फीस भी भर दी है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->