DHAR: चाकू अड़ाकर पहले खुद रेप किया, फिर 5 अन्य से भी करवाया | CRIME NEWS

22 April 2018

इंदौर। धार के धरमपुरी में एक महिला के साथ सामूहिक दुष्कर्म का मामला सामने आया है। धरमपुरी की एक महिला ने छः लोगों के विरुद्ध डरा धमकाकर दुष्कर्म करने और ब्लेक मेलिंग करने का आरोप लगाते हुए रिपोर्ट दर्ज करवाई। आरोप लगाया है कि पड़ौसी ने मौके का फायदा उठाकर चाकू की नौक पर उसका बलात्कार किया फिर उसने कई लोगों से उसका बलात्कार करवाया। 1 साल तक वो जान से मारने की धमकी देकर महिला का यौन शोषण करता और करवाता रहा। तंग आकर महिला अपने मायके चली गई। लिवाने के लिए जब पति पहुंचा तब उसने सारी बात बताई। पुलिस ने महिला की रिपोर्ट पर चार आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया। इसके बाद आरोपियों के परिजन भी थाने पहुंचे और रिपोर्ट को झूठा बताते हुए मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग की।

ये है घटनाक्रम
पुलिस के अनुसार सामूहिक दुष्कर्म का केस दर्ज कराने वाली महिला का पति और बेटा ड्राइवर है। उन्होंने एक साल पहले 1.5 लाख रुपए में किसी को ट्रक बेचा था। 17 मार्च 2017 को वह व्यक्ति ट्रक के पैसे देने आया था। महिला का कहना है कि उसे नोट गिनते नहीं आता तो उसने परिचित सलीम को बुलाया। ट्रक को खरिदने वाला ट्रक के पैसे देकर चला गया लेकिन उसी रात अपने एक साथी के साथ महिला के घर में घुस गया उसने चाकू की नोक पर महिला के साथ दुष्कर्म किया। इसके बाद वह महिला को ब्लैकमेल करने लगा और जब भी महिला के पति और बेटे घर पर नहीं होते थे वह अपने साथियों के साथ आकर उससे संबंध बनाता था। महिला का आरोप है कि सलीम ने कई लोगाें के साथ उसके संबंध बनवाए हैं।

पुलिस के अनुसार महिला ने रिपोर्ट में आरोप लगाया कि सलीम पिता फैजुल्ला (48), रफीक पिता फैजुल्ला (64), निजामुद्दीन उर्फ फोदू पिता बशीर (60), इरफान पिता इकबाल (35), फिरोज पिता जाहिद, फारूख मौलाना ने पिछले एक वर्ष से डरा धमकाकर दुष्कर्म कर और ब्लेक मेलिंग करते करीब डेढ़ से दो लाख रुपए हथिया लिए हैं। पुलिस का कहना है कि आरोपियों द्वारा महिला को जान से मारने की धमकी दी गई थी इस कारण वह इस घटना को अपने पति से नहीं बता पाई। महिला डर के मारे मायके महाराष्ट्र चली गई। पति के वापस लाने पर और जाने का कारण पूछने पर महिला ने पति को पूरी घटना बताई जिसके बाद थाने पर रिपोर्ट की गई।पुलिस ने पीड़िता की रिपोर्ट पर छः में से चार आरोपियों को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। दो आरोपी फिरोज और फारूख मौलाना की गिरफ्तारी नहीं हो सकी। प्रकरण की विवेचना एसआई हीना शर्मा कर रही हैं।

जिन पर आरोप लगाए उनके आपराधिक रेकॉर्ड नहीं
इधर आरोपितों की पत्नियां और बच्चे थाने पहुंचे और रिपोर्ट को झूठी बताया। परिजनों ने बताया महिला महाराष्ट्र की होकर उसके पति की चौथी बीवी है। जिन पर आरोप लगाए गए हैं। उनमें से एक भी व्यक्ति आपराधिक रेकॉर्ड नहीं है। सभी शादीशुदा होकर अपने निजी व्यवसाय कर रहे हैं। एक विकलांग है और एक की उम्र करीब 64 साल है। परिजन ने महिला की चिकित्सकीय जांच कराने की मांग की। उन्होंने बताया उन्हें साजिशपूर्वक फंसाया है। पूरे मामले की उच्चस्तरीय जांच की जानी चाहिए।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week