भारत बंद: BIHAR में आगजनी, ट्रेन रोकी, UP में तनाव, MP (2 शहर) में कर्फ्यू | NATIONAL NEWS

Tuesday, April 10, 2018

नई दिल्ली। 2 अप्रैल को दलितों के भारत बंद के खिलाफ 10 अप्रैल को आरक्षण विरोधी संगठनों ने भारत बंद का ऐलान किया था। देश भर में इसका असर देखा जा रहा है। बिहार में सड़कों पर प्रदर्शन हो रहे हैं। आगजनी, ट्रेन रोको, हाइवे जाम जैसे प्रदर्शन हो रहे हैं। जबकि पीएम मोदी भी आज बिहार में ही हैं। उत्तरप्रदेश से तनाव भरी खबरें आ रहीं हैं। मप्र के 2 शहर भिंड और मुरैना में कर्फ्यू लगा दिया गया है जबकि कई शहरों में धारा 144 लागू की गई है। मप्र के 5 शहरों के इंटरनेट बंद कर दिए गए हैं। 

बिहार में आगजनी, रेल रोकी, हाईवे जाम 

आरा में सैकड़ों युवाओं ने पटना पैसेंजर ट्रेन को रोक दिया। आक्रोशित युवाओं ने रेल पटरी पर उतरकर आरक्षण के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।
आरक्षण के खिलाफ भारत बंद के दौरान भोजपुर में आक्रोशित युवाओं ने सड़क पर आगजनी कर आवागमन बाधित कर दिया। नवादा थाना क्षेत्र के चंदवा मोड़ के समीप आरक्षण के खिलाफ नारे लगा रहे युवाओं ने 84 आरा बक्सर मुख्य मार्ग को सुबह से ही जाम लगाना शुरू कर दिया।

जो युवा नारेबाजी कर रहे थे उनका कहना था कि आरक्षण जाति के हिसाब से नहीं बल्कि आर्थिक रुप से कमजोर लोगों को मिलना चाहिए ताकि हर वर्ग के लोग समाज की मुख्यधारा में आ सके। 
इसके अलावा बिहार में NH 219 के पास रतवार गांव में लोगों ने सड़क को जाम कर दिया है और नारेबाजी कर रहे हैं। 
मुजफ्फरपुर में मंगलवार सुबह पटना रोड के पास टायर जलाकर प्रदर्शन किया गया। इसके अलावा भगवानपुर में मुख्य सड़क पर जाम लगा दिया गया है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी आज बिहार में ही हैं, इसलिए सुरक्षा वैसे ही बढ़ाई गई है। 

उत्तर प्रदेश में तनाव, स्कूल बंद

भारत बंद का सबसे ज्यादा असर उत्तर प्रदेश में दिख रहा है। मेरठ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर में रविवार से ही सुरक्षा बढ़ा दी गई है। सहारनपुर में अग्रिम आदेशों तक इंटरनेट की सुविधा को बंद कर दिया गया है। इसके अलावा हापुड़ और मुजफ्फरनगर में भी इंटरनेट की सेवा बंद है। वहीं फिरोजाबाद और मुजफ्फरनगर में स्कूलों को भी बंद रखा गया है। रविवार रात से ही कई इलाकों में पुलिस ने मार्च किया। अभी शुरुआत में मेरठ में भारत बंद का कोई असर नहीं दिख रहा है।

मध्य प्रदेश: कर्फ्यू, धारा 144, इंटरनेट बंद, स्कूल कॉलेज बंद

2 अप्रैल को बुलाए गए भारत बंद के दौरान सबसे ज्यादा हिंसा मध्यप्रदेश में ही हुई थी। इस बार भारत बंद को देखते हुए राज्य के कई शहरों में धारा 144 लागू की गई है। भिंड, ग्वालियर, मुरैना, श्योपुर, शिवपुरी, श्योपुर, शिवपुरी में इंटरनेट की सुविधा पर रोक लगा दी गई है। भिंड और मुरैना में कर्फ्यू लगा दिया गया है। पैरामिलिट्री फोर्स की 6 कंपनियों को तैनात किया गया है।

ग्वालियर में उपद्रवियों से निपटने के लिए 2 हज़ार से ज्यादा पुलिस बलों को तैनात किया गया है। इसके अलावा सीआरपीएफ को भी तैनात किया गया है। भोपाल, रायसेन, टीकमगढ़ में धारा 144 को लागू किया गया है। वहीं सागर में किसी भी तरह के धरने, रैली और जुलूस पर प्रतिबंध लगाया गया है।

मध्य प्रदेश के ग्वालियर, मुरैना और भिंड में हुई हिंसा के बाद, उच्च जातियों के संगठनों द्वारा 10 अप्रैल को प्रस्तावित भारत बंद और 14 अप्रैल को संविधान निर्माता डॉ. बीआर अंबेडकर की जयंती के मद्देनजर प्रशासन पूरी तरह सतर्कता बरत रहा है।

राजस्थान: धारा 144, जयपुर में इंटरनेट बंद
राजस्थान में इस बार सुरक्षा व्यवस्था को पुख्ता किया गया है। जयपुर में मोबाइल इंटरनेट सुविधा पर रोक लगा दी गई है और शहर में धारा 144 लागू की गई है।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week