LOKSABHA CHUNAV HINDI NEWS यहां सर्च करें





इंदौर होटल हादसा: अब तक 10 शव निकाले, रेस्क्यू जारी | MP NEWS

01 April 2018


INDORE |  सरवटे बस स्टैंड स्थित चार मंजिला होटल की इमारत ढहने से कितनी जनहानि हुई और कितना नुक्सान इसका सही आंकलन अभी नहीं हो पाया है। मलबे से अब तक 10 शव निकाले जा चुके हैं। यह आंकड़ा बढ़ भी सकता है।

इस बिल्डिंग में लॉज भी संचालित होता था। हादसे में 5 लोगों की हालत गंभीर बनी हुई है। घायलों का इलाज एम वाय अस्पताल में चल रहा है। अभी भी कुछ लोगों के मलबे में दब होने की आशंका है और प्रशासन की और से राहत व बचाव का काम जारी है।

इमारत गिरने के कुछ समय बाद ही पुलिस ने पहुंच कर पूरे एरिया को घेर लिया और उधर से गुजरने वाली सड़कों को बंद कर दिया।

वहीं फायर ब्रिगेड की टीम ने पहुंचकर मलबे में दबे लोगों को बाहर निकालना शुरू कर दिया। बताया जा रहा है कि होटल के एक हिस्सा का मलबा पड़ोस के एक मकान पर भी जा गिरा, जिसमें करीब चार-पांच लोग फंसे हुए हैं। 

10 मृतकों में से 5 की पहचान हो चुकी है जबकि 5 अन्य की अब भी शिनाख्त नहीं हो सकी है। एमवाय अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक हादसे में सत्यनारायण पिता रामानंद (60), होटल का मैनेजर हरीश सोनी (70), राजू पिता रतनलाल (36), आनंद पोरवाल (निवासी नागदा) और राकेश राठौर (निवासी नंदबाग) की शिनाख्त हो चुकी है। जबकि 3 पुरूष और 2 महिलाओं की पहचान नहीं हो सकी है।

प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक घटना के वक्त होटल में कई मुसाफिर अंदर थे। गिरती होटल के मलबे की चपेट में आसपास से गुजर रहे लोग भी आ गए। हादसे के तुरंत बाद आसपास मौजूद लोगों ने बचाव कार्य व मदद शुरू की। 

होटल के पास स्थित एक अन्य होटल के कर्मचारी अजय राजपूत के मुताबिक अचानक तेज धमाके की आवाज आई और क्षेत्र की बिजली गुल हो गई। बाहर देखा तो पूरे क्षेत्र में धूल का गुबार छाया हुआ था। पूरी होटल गिर चुकी थी। वहां से गुजर रहा एक ऑटो रिक्शा भी उसकी चपेट में आ गया।

ऑटो के चालक सत्यनारायण चौहान को लोगों ने तुरंत निकालकर 108 एंबुलेंस से अस्पताल रवाना किया। घटना के करीब 20 मिनट बाद नगर निगम, आपदा प्रबंधन, फायर ब्रिगेड की टीमों के साथ ही पुलिस और निगम प्रशासन के तमाम अधिकारी मौके पर पहुंचे। 

जानकारी के मुताबिक सरवटे बस स्टैंड चौराहे पर स्थित होटल एमएस की बिल्डिंग गिरी है। बिल्डिंग काफी जर्जर थी। इस होटल में रेस्टॉरेंट भी था और ऊपरी मंजिलों पर लॉज भी थी।

भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय सुबह अस्पताल में घायलों का हालचाल जानने पहुंचे। 




-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

;
Loading...

Suggested News

Popular News This Week

 
-->