मप्र में मनरेगा का फर्जी भर्ती विज्ञापन

Thursday, March 8, 2018

भोपाल। प्रदेश में भर्ती के लिए फर्जी विज्ञापनों से युवाओं को ठगने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पिछले माह पंंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अन्तर्गत महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना में जिला पंचायत और जनपद पंचायत में संविदा के विभिन्न रिक्त पदों पर पूर्ति हेतु विज्ञापन जारी किया गया। विज्ञापन आयुक्त महात्मा गांधी राज्य ग्रामीण रोजगार परिषद के कथित हस्ताक्षर से जारी हुआ है। 

विज्ञापन में बताया गया कि पांचवीं, दसवीं, 12वीं, डिप्लोमा और स्नातक पास लोगों की जरूरत है। पद समन्वयक (शिकायत निवारण), कम्प्यूटर प्रोग्रामर, कार्यक्रम अधिकारी, सहायक प्रोग्रामर, तकनीकी सहायक, लेखापाल, डाटा एंट्री आॅपरेटर, सहायक ग्रेड तीन और भृत्य के प्रकाशित हुए हैं। सभी पदों के लिए आयु सीमा 21 वर्ष न्यूनतम और 35 वर्ष अधिकतम बताई गई है। विज्ञापन में यह नहीं बताया गया कि आवेदन पत्र किस पते पर भेजे जाना है।

परिषद ने कहा, फर्जी है: 
संयुक्त आयुक्त कमल सोलंकी के नाम से जारी आदेश में कहा गया है कि पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, महात्मा गांधी नरेगा अन्तर्गत विभिन्न पदों पर पद पूर्ति के संबंध में फर्जी  विज्ञापन जारी किया गया है। इसलिए कोई भी जिला कार्यालय आवेदन पत्र प्राप्त नहीं करें।

ऐसा पता चला कि फर्जी है इस्तहार
विज्ञापन में कई गल्तियां हैं। पकड़ में आया है कि जारी विज्ञापन में पहले महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गांरटी योजना लिखा है जबकि आयुक्त के हस्ताक्षर में महात्मा गांधी राग्रारोगा परिषद विभागाध्यक्ष कार्यालय लिखा है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week