विरोध में कर्मचारियों के मुंडन पर BJP सांसद प्रभात झा का बेतुका बयान | MP NEWS

24 February 2018

भोपाल। मध्यप्रदेश में इन दिनों शिवराज सिंह सरकार के विरोध में मुंडन आंदोलन चल रहा है। शुरूआत महिला अध्यापकों ने की थी। उसके बाद अतिथि शिक्षक, संविदा कर्मचारी, सहकारिता कर्मचारी और कई वर्गों के कर्मचारियों ने मुंडन कराया और सरकार का वादाखिलाफ बताया। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राज्यसभा सांसद प्रभात झा ने कहा है कि आंदोलनकारी वही चीज़ कटवाते हैं जो दोबारा उग आतीं है।

दरअसल, भाजपा ने उपचुनाव में यशोधरा राजे सिंधिया को कोलारस और प्रभात झा को मुंगावली की जिम्मेदारी सौंपी थी। कोलारस में तो यशोधरा राजे का रंग जमता नजर आया परंतु मुंगावली में प्रभात झा कोई चमत्कार नहीं कर पाए। खबर आई थी कि चुनाव से पहले उन्होंने कुछ कर्मचारियों से भाजपा के पक्ष में काम करने को कहा था लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और ही निकली। कर्मचारियों का झुकाव कांग्रेस के प्रति था। भाजपा ने मुंगावली चुनाव के दौरान करीब आधा सैंकड़ा कर्मचारियों की चुनाव आयोग से शिकायत की है। इसमें रोजगार सहायक और अतिथि शिक्षक भी शामिल हैं। 

इसके अलावा बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष ने निर्वाचन आयोग की सीईओ सलीना सिंह के उस बयान पर आपत्ति भी जाहिर की है। जिसमें सलीना सिंह ने कहा था कि ये कुर्सी कांटों भरी है। सलीना सिंह ने कहा था कि मुंगावली-कोलारस उपचुनाव के दौरान सत्ता पक्ष बीजेपी और विपक्षी पार्टी कांग्रेस का दबाव मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी पर है। प्रभात झा ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि सलीना सिंह को ऐसे बयान नहीं देना चाहिए। सलीना सिंह पर सत्ता पक्ष की तरफ से दबाव के सवाल पर प्रभात झा ने कहा कि कौन दबाव बना रहा है उसकी जानकारी नहीं है।

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

Loading...

Popular News This Week

 
-->