महिलाएं को स्कूटर खरीदने के लिए 25 हजार रुपए सब्सिडी | NATIONAL NEWS

24 February 2018

नई दिल्ली। महिलाएं यदि स्कूटर खरीदना चाहतीं हैं तो उन्हे स्कूटर के कीमत की 50 प्रतिशत या अधि​कतम 25 हजार रुपए सब्सिडी दी जाएगी लेकिन इसके लिए महिला का गरीबी रेखा के नीचे दर्ज होना अनिवार्य है और वो तमिलनाडु की मतदाता हो। तमिलनाडु की एआईएडीएमके सरकार की ओर से जनता को मुफ्त दिए जाने वाले सामानों और सब्सिडी में अब 'अम्मा स्कूटर' भी जुड़ गया है। 

रिपोर्ट के मुताबिक, तमिलनाडु की वैसी महिलाएं जिनकी सालाना आमदनी 2.5 लाख से कम है, उन्हें 125 सीसी तक के टू ह्वीलर की खरीद पर 50 फीसदी या 25 हजार रुपये की सब्सिडी दी जाएगी। पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी प्रमुख रहीं जयललिता की 70वीं बर्थ एनिवर्सरी सेलेब्रेशन के मौके पर 24 फरवरी को पीएम नरेंद्र मोदी चेन्नई में इसकी लॉन्चिंग करेंगे। हर परिवार में एक ही महिला इसके लिए एलिजिबल होंगी। वैसे परिवारों को तवज्जो दिया जाएगा जिन्हें महिलाएं चलाती हैं। विधवा, विकलांग या ट्रांसजेंडर होने पर भी प्राथमिकता मिलेंगी।

इन पर मिल रही है सब्सिडी
अम्मा मिक्सर्स एंड ग्रिंडर्स
अम्मा मैरेज स्कीम
अम्मा लैपटॉप
अम्मा साइकल
अम्मा बेबी केयर किट्स
बकरियां और गाय

सब्सिडी और वेलफेयर स्कीम
अम्मा फार्मेसी
अम्मा सीड्स
खाद्य सब्सिडी
मैटरनिटी बेनिफिट स्कीम
अम्मा इंश्योरेंस

अम्मा नहीं रही, लेकिन तमिलनाडु के लोगों के लिए ऑफर बरकरार
आपको बता दें कि तमिलनाडु की सत्‍ता पर दो दशक से अधिक राज करने वाली जय‍ललिता ने हमेशा आम आदमी को ध्‍यान में रखा. सत्‍ता दर सत्‍ता उन्‍होंने ऐसे कई फैसले लिए, जो लोगों के बीच उनकी लोकप्रियता को बुलंदियों पर ले गए. पेट से लैपटॉप तक की जरूरत को उन्‍होंने साधा और 6 बार मुख्‍यमंत्री बनीं. उनकी सफलता के पीछे सबसे बड़ा हाथ अम्‍मा उनवगम का माना जाता है. यह कैंटीन की ऐसी चेन है जिसमें काफी कम कीमत पर लोगों को भोजन मिलता है. खास बात ये है कि केवल गरीबों के लिए ही नहीं बल्कि सभी आय वर्ग के लोगों के लिए यह कैंटीन खुली रहती है. इसे अम्‍मा ने 2013 में शरू किया था. अब उनके नहीं रहने पर भी पार्टी जनता को लुभावने ऑफर देने का सिलसिला जारी रखना चाहती है.

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts