क्रिकेट के नेट प्रैक्टिस पोल पर लटकी मिली युवती की लाश | BHOPAL NEWS

Monday, December 25, 2017

भोपाल। भोपाल रेलवे स्टेशन के पास स्थित रेलवे मैदान में क्रिकेट के नेट प्रैक्टिस के लिए बनाए गए पोल पर एक युवती की लाश लटकी हुई मिली। पुलिस देर शाम तक युवती की पहचान और पीएम रिपोर्ट का इंतजार करती रही परंतु ना तो युवती की शिनाख्त हो पाई और ना ही शॉर्ट पीएम रिपोर्ट आई जिससे यह पता चल सके कि युवती की हत्या की गई है या फिर यह आत्महत्या का मामला है। लोगों का कहना है कि युवती को शाम 5 बजे ग्राउंड के आसपास देखा था। इसके बाद उसने एक मोबाइल की दुकान से रिचार्ज भी कराया। 

भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-1 की तरफ जीआरपी थाने से करीब 100 मीटर की दूरी पर रेलवे मैदान है। इसमें क्रिकेट खिलाड़ियों को अभ्यास करने के लिए तीन पिच बनाई गई हैं। सोमवार सुबह करीब 6.30 बजे मैदान पर पहुंचे खिलाड़ियों को एक पिच पर युवती का शव फंदे पर लटका दिखा। ट्रेक सूट, जींस और बाल छोटे-छोटे होने के कारण पुलिस को युवक के फांसी लगाने की सूचना मिली थी। सूचना मिलते ही जीआरपी की टीम मौके पर पहुंच गई। चेक करने पर युवती का शव होने के कारण पुलिस ने तत्काल एफएसएल को सूचना दे दी।

घटना स्थल पर मिला टूटा हुआ मोबाइल और सिम
सुबह 8.15 बजे एफएसएल की टीम भी पहुंच गई। एफएसएल की जांच के बाद को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। पुलिस को घटनास्थल के पास एक टूटा हुआ मोबाइल फोन और सिम मिली है। इसके अलावा पहचान के लिए कुछ नहीं मिला। जीआरपी इसे आत्महत्या मानकर जांच कर रही है। देर रात तक जीआरपी को न तो शॉर्ट पीएम रिपोर्ट मिल पाई थी और न ही मृतका की पहचान ही हो सकी थी।

15 फीट ऊंचाई पर लगा था फंदा
क्रिकेट पिच को तीन तरफ से लोहे के पाइप के एक ढांचे के अंदर बनाया गया है। एक तरफ से छोड़ शेष तीनों और ऊपर की तरफ से नाइलोन की नेट से कवर किया गया है। फंदा पानी की टंकी वाली पिच के पास बल्लेबाजी की तरफ से दूसरे पोल पर बंधा गया था। यह पोल करीब 15 फीट ऊंचा है। एक पोल पर पुलिस को पैर के निशान भी मिले हैं। इन निशान को भी जांच के लिए भेजा गया है। मृतका के फुट प्रिंट से इसका मिलान किया जाएगा।

मोबाइल फोन शॉप पर देखी गई थी अंतिम बार
विवेचना अधिकारी मूलचंद के अनुसार युवती रविवार शाम 5 बजे से लेकर रात 8 बजे तक मैदान के अंदर बनी पानी की टंकी के पास बैठी देखी गई थी। उसके बाद वह स्टेशन के पास एक मोबाइल फोन की शॉप पर मोबाइल चार्ज करने के लिए गई थी। उसके बाद उसे नहीं देखा गया।

पुलिस का तर्क इसलिए है आत्महत्या
स्वाभाविक फांसी लगाने पर पैर के पंजे जमीन की तरफ रहते हैं। मृतका के पैर के अंगूठे के नाखून जमीन से 20 सेंटीमीटर की दूरी और एड़ी 23 सेंटीमीटर की ऊंचाई पर हैं, जाे यह दर्शाता है कि यह खुद से लगाई गई फांसी है।

हत्या की ओर इशारा
एक युवती बिना किसी सहारे के पंद्रह फीट की ऊंचाई पर कैसे चढ़ गई? 
युवती ने सुसाइड नोट क्यों नहीं लिखा?
घटनास्थल से करीब 50 मीटर दूरी पर टूटा मिला मोबाइल फोन और सिम किसने तोड़ा?

शॉर्ट पीएम रिपोर्ट नहीं मिली
मृतका के पास कोई भी पहचान की चीज नहीं मिली है। देर रात तक किसी ने संपर्क भी नहीं किया। पोस्टमार्टम के बाद शव मर्चूरी में ही रखवा दिया गया है, लेकिन शॉर्ट पीएम रिपोर्ट नहीं मिली है। -हेमंत श्रीवास्तव, टीआई जीआरपी

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week