54 साल के विनोद ने पास की MPPSC परीक्षा | सपनों की उड़ान में उम्र बाधक नहीं होती

Thursday, November 9, 2017

भोपाल। मध्यप्रदेश की दमोह जिला पंचायत में मनरेगा अधिकारी के रूप में पदस्थ विनोद जैन ने 54 साल की उम्र में मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग की परीक्षा दी और पहले ही प्रयास में पास हो गए। उनका चयन प्रदेश के 71 (विकास खंड अधिकारी) बीडीओ में की सूची में हुआ है। उन्होंने वर्ष 2016 में पीएससी की ऑन लाइन परीक्षा दी थी। इसी के साथ यह साबित हो गया कि अवसर उम्र के साथ कम नहीं होते। उम्मीदें उम्र के आखरी पढ़ाव भी खोनी नहीं चाहिए। 

मूलरूप से टीकमगढ़ निवासी श्री जैन लंबे समय से दमोह जिला पंचायत में प्रतिनियुक्ति पर मनरेगा परियोजना अधिकारी के रूप में पदस्थ हैं। बुधवार को रिजल्ट आने पर उन्होंने अपनी इस उपलब्धि पर खुशी जाहिर की है। उन्होंने बताया, “आखिरकार, मैंने अपना सपना पूरा कर लिया है, अब मैं लोक सेवा आयोग से चयनित अधिकारी हो गया हूं। मैंने इस उम्र में यह साबित करने का निर्णय लिया था, कोई भी अपना सपना पूरा कर सकता है और कुछ भी हासिल कर सकता है, मैं एक उदाहरण बन गया हूं। उन्होंने बताया कि 54 से ज्यादा उनकी उम्र हो गई है। अभी 5 साल से ज्यादा की नौकरी और बची हुई है। पीएससी में चयन होने के बाद अब उन्हें यह उपलब्धि मिली है। 

कंप्यूटर सीखा और पढ़ाई के लिए समय निकाला 
उन्होंने बताया कि इस उम्र में कंप्यूटर से लेकर पढ़ने की ललक खत्म हो जाती है। मगर उन्होंने हिम्मत नहीं हारी। कंप्यूटर सीखा और परिवार को कम समय दिया। श्री जैन ने बताया कि वह युवाओं को संदेश देने की कोशिश कर रहे हैं कि उन्हें कभी भी हार नहीं माननी चाहिए, उन्होंने कहा, “मैं उन्हें बताना चाहता हूं कि कभी उदास और तनाव में न रहें। मौका हर वक्त रहता है, केवल खुद पर विश्वास होना चाहिए। 

उन्होंने माना कि इस उम्र में विद्यार्थी की दिनचर्या का निर्वहन आसान नहीं था, सुबह जल्दी उठ कर परीक्षा की तैयारी करना मेरे लिए काफी मुश्किल था। श्री जैन का चयन पीएससी की सूची में 34 वें नंबर पर हुआ है। श्री जैन के साथ जनपद पंचायत दमोह में पदस्थ मान सिंह ठाकुर ने भी यह परीक्षा पास की है। उन्हें भी विकास खंड अधिकारी के रूप में चयनित किया गया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week