कृषि मंत्री ने भरे मंच से कृषि मंडी की महिला सचिव को दुत्कार कर भगा दिया

18 September 2017

सिवनी। छपारा की सिंचाई कॉलोनी में रविवार को कृषि संगोष्ठी में बतौर मुख्य अतिथि कृषि मंत्री गौरीशंकर बिसेन पहुंचे थे। मंच पर पहुंचते ही बिसेन ने माइक संभाला और लोगों को मोबाइल बंद रखने को कहा। मंच पर पहुंचते ही मंत्री बिसेन ने पंडाल में मौजूद किसानों और जन प्रतिनिधियों को अपने अपने मोबाइल बंद करने की सलाह दी, और कहा कि अगर 1 घंटा मोबाइल बंद रख लेंगे तो कोई प्रलय नहीं आ जाएगा। इसके बाद भी मंडी सचिव अर्चना सिंह ठाकुर वहां पर खड़ी रह गईं। मंत्री बिसेन ने अर्चना सिंह को खड़े देखा ते मंच से झल्लाकर बोले, ‘यह कौन है, इसे यहां से भगाओ, जाओ यहां से’। मंत्री के बिगड़े बोल सुनते ही संगोष्ठी स्थल पर सन्नाटा छा गया। इसके बाद अर्चना सिंह आयोजन चलता छोड़ वहां से चली आईं, और मंत्री सरकारी योजनाओं के गुणगान करने में जुट गए।

मंत्री ने किया है महिला की अपमान
मंडी सचिव अर्चना सिंह ठाकुर ने कहा उन्हें बिना गलती कृषि मंत्री ने लताड़कर बेइज्जत किया। अर्चना सिंह ने बताया कि उन्हें स्वागत करने के लिए मंच पर बुलाया गया था। भाजपा जिला अध्यक्ष नीता पटेरिया के स्वागत के बाद उन्होंने मंच से एक सब-ऑर्डिनेट का आवाज दी और कुर्सी लाने के लिए कहा। कुर्सी आती उससे पहले कृषि मंत्री ने उन्हें बैठने व शांत रहने के लिए डांटते हुए कहा तो वह चुपचाप खड़ी रह गईं। 

इसके बाद कृषि मंत्री ने पब्लिकली उन्हें भगाने के लिए कह दिया। मंडी सचिव अर्चना ठाकुर का कहना है, 'मुझे बेइज्जत कर भगाया गया है। मंत्री को कोई अधिकार नहीं है कि किसी महिला को इस तरह से भगाए, अपने सम्मान के लिए मैं संघर्ष करूंगी।

और अधिक समाचारों के लिए अगले पेज पर जाएं, दोस्तों के साथ साझा करने नीचे क्लिक करें

-----------

अपनी पसंदीदा श्रेणी के समाचार पढ़ने कृपया नीचे दिए गए श्रेणी के ​बटन पर क्लिक करें

mgid

Loading...

Popular News This Week

Revcontent

Popular Posts