GUJARAT: माफिया ने किया पिता के सामने 2 नाबालिग बेटियों का गैंगरेप

Friday, March 17, 2017

दाहोद। गुजरात में दाहोद जिले की देवगढ़ बारिया तहसील में एक शर्मनाक घटना में एक चलती गाड़ी में दो किशोरियों के साथ शराब माफिया समेत 6 लोगों ने उनके पिता के सामने सामूहिक बलात्कार किया। माफिया ने ऐसा इसलिए किया क्योंकि पिता के बेटे ने पुलिस को माफिया के बारे में बयान दे दिया था। गुस्साए माफिया ने इस तरह अपने खिलाफ आवाज उठाने वालों में दहशत जमाने की कोशिश की है। पुलिस ने बताया कि अपहरण और बलात्कार के मामले में शामिल बताये जा रहे 13 लोगों में से 5 को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस ने कहा कि शराब माफिया कुमात बारिया, गोपसिंह बारिया और अन्य लोगों ने 13 और 15 साल की उम्र की दो बहनों को अगवा किया और उनके पिता को भी उनकी दुकान से अगवा कर उन्हें एसयूवी में बिठा लिया तथा लड़कियों का बलात्कार किया। पीड़िता के पिता ने प्राथमिकी में कहा कि दो मोटरसाइकिल पर सवार चार आरोपी गाड़ी के पीछे चलते रहे।

पुलिस को दी थी शराब तस्करी की जानकारी
पुलिस ने बताया कि कुमात बारिया ने दोनों पीड़िता के पिता से कथित तौर पर कहा कि उसने बदला लेने के लिए इस जघन्य कृत्य को अंजाम दिया है। पीड़ित का बेटा शराब से जुड़े एक मामले में गिरफ्तार हुआ था और उसने पुलिस को बताया था कि वह कुमात से शराब खरीदता था। इसके बाद पुलिस ने कुमात के खिलाफ एक मामला दर्ज किया था।

पुलिस के पास ना जाने की धमकी दी
प्राथमिकी में कहा गया है कि आरोपी ने बाद में दोनों किशोरियों और उनके पिता को मंडव गांव के समीप उतार दिया और उन्हें पुलिस के पास ना जाने की धमकी दी।

13 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज, पांच गिरफ्तार
पुलिस ने लड़कियों को इलाज के लिए एक सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया है। उप निरीक्षक डीजी रावल ने कहा कि इस घटना के संबंध में कुमात बारिया, गणपत बारिया, नरवत बारिया, सुरेश नाइक और गोपसिंह बारिया को गिरफ्तार किया है जबकि अन्य आरोपियों की तलाश की जा रही है। पुलिस ने आईपीसी और पोस्को कानून की विभिन्न धाराओं के तहत 13 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah