प्राचार्य ने जिला शिक्षा अधिकारी के वाट्सएप ग्रुप में डाली अश्लील फोटो, सस्पेंड

Saturday, August 27, 2016

सीधी। युवाओं के मोबाइल दुरूपयोग किये जाने की शिकायतें तो खूब मिल रही थी पर शिक्षा जगत से जुड़े शिक्षक भी अश्लील हरकत करते है ऐसा कोई भरोसा सीधी मे नही करता लेकिन ऐसे ही मामले मे एक प्रभारी प्राचार्य को निलंबित कर दिया गया है। जो मोबाइल से अश्लील संदेश भेज रहा था। 

जिला शिक्षा अधिकारी आर.पी.तिवारी ने बताया कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हटवाखास के वरिष्ठ अध्यापक एवं प्रभारी प्राचार्य नर सिंह चौहान ने जिला शिक्षा अधिकारी ग्रुप के वाट्स एप में महिलाओं की अश्लील फोटो पोस्ट की गई। जबकि उक्त विद्यालय में सह शिक्षा है। उन्होंने बताया कि विगत 13 जुलाई को स्कूल का अपरान्ह में निरीक्षण करने पर एक भी छात्र उपस्थित नहीं पाए गए। शैक्षणिक गुणवत्ता में सुधार न करने और अपने पदीय कर्तव्यों का पालन न करने पर दिनांक 13 जुलाई को अवैतनिक किया गया लेकिन प्रभारी प्राचार्य नर सिंह चौहान ने अवैतनिक किए गए समस्त कर्मचारियों एवं स्वयं का वेतन बिना अनुमति प्राप्त किए ही आहरित कर लिया। 

जिला शिक्षा अधिकारी श्री तिवारी ने बताया कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय हटवाखास के प्रभारी प्राचार्य नर सिंह चौहान को जिला अधिकारी के वाट्स एप ग्रुप में अश्लील फोटो पोस्ट करने एवं बिना अनुमति के स्वयं का और शाला के अन्य कर्मचारियों का वेतन आहरित करने, कार्य के प्रति लापरवाही एवं पदीय दायित्वों का निर्वहन न करने के आरोप में तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। श्री चौहान का मुख्यालय विकासखंड शिक्षा अधिकारी मझौली नियत किया गया है। 

महिला सहायक अध्यापक भी निलम्बित  
जिला शिक्षा अधिकारी आर.पी.तिवारी ने बताया कि कलेक्टर अभय वर्मा द्वारा चौपाल कार्यक्रम के दौरान प्राथमिक शाला डिठौरा का निरीक्षण किया गया जिसमें ग्रामीणजनों ने बताया कि सहायक अध्यापिका श्रीमती अर्पणा सिंह द्वारा शैक्षणिक कार्य में रूचि नहीं ली जाती। इस कारण छात्रों का शैक्षणिक स्तर अत्यन्त कम है। वे शाला में उपस्थित नहीं रहती,षाला में विलम्ब से आती है एवं समय से पहल चली जाती है। उक्त शिक्षिका श्रीमती अर्पणा सिंह को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है। 

जिला शिक्षा अधिकारी श्री तिवारी ने बताया कि कलेक्टर श्री वर्मा द्वारा चौपाल कार्यक्रम के भ्रमण के दौरान कपुरी बघेलान का निरीक्षण किया गया। ग्रामीणजनों ने बताया कि अध्यापक एवं प्रभारी प्राचार्य राजकुमार पटेल द्वारा शैक्षणिक कार्य मंे रूचि नहीं ली जाती जिस कारण से छात्रों का शैक्षणिक स्तर कमजोर है। शासकीय हाई स्कूल कपुरी बघेलान का एक रिकार्ड भी है कि इस स्कूल के षिक्षकों की लापरवाही एवं  उदासीनता के कारण लगातार चार वर्षों से कक्षा दसवी का परीक्षा परिणाम शून्य आ रहा है। इस पर कलेक्टर द्वारा अध्यापक एवं प्रभारी प्राचार्य राजकुमार पटेल को निलम्बित करने के निर्देष दिए गए। अतः अध्यापक एवं प्रभारी प्राचार्य राजकुमार पटेल को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया गया है।  

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें

mgid

Loading...

Popular News This Week

 
Copyright © 2015 Bhopal Samachar
Distributed By My Blogger Themes | Design By Herdiansyah Hamzah