Loading...

लागू होना चाहिए विवाह समारोहों की आदर्श आचारण संहिता

भोपाल। मूलत: दतिया निवासी राजधानी के वरिष्ठ स्वतंत्र पत्रकार वीरेन्द्र जैन का मानना है कि विवाह समारोहों के लिए अब एक आदर्श आचरण संहिता तैयार की जानी चाहिए और उसका कड़ाई से पालन करवाया जाना चाहिए।

अपने विचार एफबी पर शेयर करते हुए उन्होंने लिखा है कि:—

मैं चाहता हूं कि सरकार विवाह के सभी निमंत्रण पत्रों पर निम्नांकित शपथ पत्र का प्रकाशन और पालन अनिवार्य करे, तथा उल्लंघन पर कार्ड मुद्रण करने वाली प्रैस और अतिथियों पर भी जुर्माना लगाये -
1- विवाह में दूल्हे की उम्र 21 वर्ष और दुल्हन की उम्र 18 वर्ष से कम नहीं है।
2- दावत के भोजन पकाने में व्यावसायिक गैस सिलेंडर का ही उपयोग किया जायेगा।
3- विवाह समारोहों के विभिन्न कार्यों, जिसमें बारात में रोशनी के हंडे ले जाने का काम भी सम्मलित है, किसी बाल मजदूर को नहीं लगाया जायेगा।
4- दावत का बचा हुआ सामान किसी ऐसी सामाजिक संस्था को दे दिया जायेगा जो उसे गरीबों तक पहुँचाने का काम करती हो।
5- विवाह समारोह आदि में डीजे समेत सभी वाद्ययंत्रों की ध्वनि इतनी संतुलित रखी जायेगी तकि समारोह से बाहर के किसी व्यक्ति को परेशानी नहीं होगी।
6- दावत स्थल पर पार्किंग की पूरी व्यवस्था होगी और सड़कों पर कोई वाहन पार्क नहीं होगा।
7- बारात सड़क पर कम से कम समय पर रहेगी और एक चौथाई से अधिक सड़क की जगह नहीं घेरेगी।
8- गन्दगी कचरेदान में ही डाली जायेगी।
9- विवाह में किसी बन्दूक पिस्तौल आदि से हर्ष फायर नहीं किया जायेगा
क्या आप सहमत हैं?

श्री वीरेन्द्र जैन से संपर्क कीजिए
0755 260 2432
Address
2/1 salimar sterling Raisen Road near Apsara Talkies
Bhopal, India 462023