BITCOIN: नोटबंदी के बाद FRDI BILL की खबर आते ही 2000 डॉलर बढ़ गया

Friday, December 8, 2017

नई दिल्ली। भारत के भ्रष्ट नौकरशाहों (Corrupt bureaucrat) ने नोटबंदी के बाद अपनी ज्यादातर काली कमाई (BLACK MONEY) बिटकॉइन में लगा दी है। यही कारण है कि नोटबंदी के बाद के 1 साल में बिटकॉइन की कीमत में 900 प्रतिशत का रिकॉर्ड जंप देखने को मिला। अभी इसकी समीक्षा ही हो रही थी कि भारत में FRDI BILL की खबर आ रही और बिटकॉइन की कीमत में 1 दिन में 2000 डॉलर यानि की 1,29,084 रुपये की की बढ़ौत्तरी हो गई। बता दें कि बिटकॉइन की कीमत में वृद्धि तब दर्ज की जाती है जब उसमें निवेश (INVESTMENT) बढ़ जाता है, उसकी मांग ज्यादा हो जाती है। याद दिला दें कि  फाइनेंशियल रेजोल्यूशन एंड डिपॉजिट इंश्योरेंस बिल -2017  (FINANCIAL RESOLUTION AND DEPOSIT INSURANCE BILL 2017) का मसौदा कुछ ऐसा है कि बैंक कभी भी आपकी जमापूंजी हड़प सकते हैं। 

नोटबंदी से पहले 1000 डॉलर थी कीमत, अब 10 हजार के पार
इस साल की शुरुआत में 1,000 डॉलर के स्तर पर कारोबार कर रहे बिटकॉइन ने बीते सप्ताह ही 10,000 डॉलर के लेवल को पार किया था। दिग्गज अर्थशास्त्रियों और बिजनस लीडर्स की ओर से बिटकॉइन को लेकर चेतावनी जारी किए जाने के बाद भी इसमें भारी मात्रा में पैसा लगाया गया। बीते 24 घंटे में ही इसने 12,000 के स्तर और फिर 13,000 के स्तर को पारकर 14,000 डॉलर के आंकड़े को छू लिया। 

अब सारी दुनिया के काले कारोबारियों की पसंद

हॉन्ग कॉन्ग में गुरुवार को शुरुआती कारोबार में इसकी कीमत 14,000 डॉलर तक पहुंच गई। इस क्रिप्टोकरंसी में इस साल बड़े उतार-चढ़ाव देखने को मिले हैं। बीते सप्ताह ही 11,000 डॉलर के आंकड़े तक गिरने के बाद इसमें अचानक इजाफा हुआ है और 3,000 डॉलर तक की ग्रोथ देखने को मिली है। 

आतंकवादी और अपराधियों की करेंसी है बिटकॉइन

गौरतलब है कि सितंबर में ही अमेरिका के सबसे बड़े इन्वेस्टमेंट बैंक जेपी मॉर्गन के सीईओ जेमी डिमॉन ने कहा था कि बिटकॉइन फ्रॉड करंसी है। उन्होंने तो यहां तक कहा था कि यह ड्रग डीलर्स और धोखाधड़ी करने वाले लोगों की करंसी है। जेमी ने कहा था, 'ईमानदारी से कहूं तो मैं अचंभित हूं कि इस करंसी को कोई देख भी नहीं सकता कि आखिर यह क्या है।' 

रिजर्व बैंक ने बस औपचारिकता पूरी कर दी
हालांकि बुधवार को ही भारतीय रिजर्व बैंक ने आगाह करते हुए कहा था कि इसमें लेन-देन या निवेश करने का जोखिम निवेशकों को खुद उठाना होगा। केंद्रीय बैंक ने कहा कि वह इसमें किसी भी धोखाधड़ी के लिए उत्तरदायी नहीं होगा। बता दें कि रिजर्व बैंक ने अब तक बिटकॉइन को भारत में अवैध या प्रति​बंधित घोषित नहीं किया है। 

SHARE WITH YOU FRIENDS

-----------

CHOOSE YOUR FAVOURITE NEWS CATEGORY | कृपया अपनी पसंदीदा श्रेणी चुनें


खबरें जो आज भी सुर्खियों में हैं

Popular News This Week