शिवराज सिंह के सामने पूरी दिल्ली नतमस्तक है, उत्तराधिकारी कार्तिकेय सिंह ने बताया - MP NEWS

मध्य प्रदेश के नेता श्री शिवराज सिंह चौहान को जब मुख्यमंत्री के पद से हटाया गया तो वह और ज्यादा लोकप्रिय हो गए। कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक देश के सबसे बड़े नेताओं में उनकी गिनती की जाती है। आज पूरी दिल्ली उनके सामने नतमस्तक है। यह दावा उनके उत्तराधिकारी श्री कार्तिकेय सिंह ने किया है। 

दिल्ली क्या कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक शिवराज ही शिवराज

श्री कार्तिकेय सिंह का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। यह एक सभा का वीडियो है जो भेरूंदा नसरुल्लागंज में आयोजित की गई थी। सभा को संबोधित करते हुए श्री कार्तिकेय सिंह कहते हैं कि, जानते तो पहले भी थे, तब मुख्यमंत्री के रूप में हमारे नेता लोकप्रिय थे, लेकिन पता नहीं ऐसा क्यों लगता है कि जब मुख्यमंत्री नहीं रहे तो और लोकप्रिय हो गए हैं और अब जब इतनी प्रचंड जीत के बाद हमारे नेता गए हैं तो आज पूरा दिल्ली भी नतमस्तक है और दिल्ली क्या, कश्मीर से लेकर कन्याकुमारी तक अगर देश में सबसे बड़े नेताओं में किसी की गिनती की जाती है तो हमारे नेता आदरणीय शिवराज सिंह चौहान की, की जाती है। (वायरल हो रहा वीडियो इसी समाचार के साथ संलग्न कर दिया गया है।)

कार्तिकेय सिंह चौहान बुधनी विधानसभा से चुनाव लड़ेंगे?

श्री कार्तिकेय सिंह, मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं भारत सरकार में केंद्रीय कृषि मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के सुपुत्र हैं और उनके राजनीतिक उत्तराधिकारी माने जाते हैं। श्री शिवराज सिंह चौहान ने बुधनी विधानसभा सीट से इस्तीफा दे दिया है। यहां पर उपचुनाव होने हैं। श्री कार्तिकेय सिंह ने पिता की सीट पर पुत्र की दावेदारी अर्थात राजनीति में परिवारवाद के आधार पर चुनाव लड़ने से इनकार कर दिया है। उनका कहना है कि वह संगठन के लिए काम करेंगे। जबकि श्री शिवराज सिंह चौहान के समर्थकों का मानना है कि उन्हें (श्री कार्तिकेय सिंह चौहान को) बुधनी विधानसभा से चुनाव लड़ना चाहिए। 

विनम्र अनुरोध 🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। मध्य प्रदेश के महत्वपूर्ण समाचार पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में Madhyapradesh पर क्लिक करें।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !