अस्थाई, अंशकालीन, अतिथि, संविदा कर्मचारी के प्रति न्यायपूर्ण कदम उठाइए - Khula Khat

शासकीय विभागों में कार्यरत दैनिक वेतन भोगी कर्मचारी, अंशकालीन कर्मचारी, अतिथि शिक्षक, संविदा कर्मचारी, जिनको मासिक वेतन इस पद पर नियुक्त नियमित कर्मचारियों के वेतन के एक तिहाई से भी कम मिलता है और वह भी समय से नहीं मिलता है। एक तरफ तो सरकार राम राज्य की स्थापना की अवधारणा में कमजोर और शोषित वर्ग के उत्थान के लिए कई जनकल्याणकारी योजनाएं चला रही है, जो सही भी है। लाडली बहन योजना, किसान प्रोत्साहन राशि, जिन्हें घर नहीं है उन्हें घर बना कर देना, मुफ्त राशन और बहुत सारी अन्य जनकल्याणकारी योजनाएं, जिन पर अरबो रुपए खर्च हो रहे हैं। 

मार्च का वेतन अभी तक नहीं प्राप्त हुआ

प्रदेश के यशस्वी पूर्वमुख्यमंत्री के द्वारा प्रादेशिक मंच पर सार्वजनिक घोषणा की गई कि अतिथि शिक्षकों को मानदेय समय पर मिलेगा लेकिन क्या हुआ मार्च का वेतन अभी तक नहीं प्राप्त हुआ है। नियमित कर्मचारियों को वेतन हर माह एक या दो तारीख को प्राप्त हो जाता है, जिसकी उसे इतनी आवश्यकता नहीं है क्योंकि उन लोगों का मासिक वेतन इतना अधिक है कि उनसे खर्चा ही नहीं हो पता। अल्प वेतन प्राप्त कर्मचारी जिन्हें हर माह वेतन की सख्त आवश्यकता होती है, परिवार का पालन पोषण करने के लिए, किंतु उन्हें बजट के लिए इंतजार करना पड़ता है। इस ज्वलंत समस्या पर प्रशासनिक अधिकारी एवं हमारे राजनेताओं का ध्यान नहीं जाता। 

अतः मेरा अनुरोध है कि शासन को एक न्याय प्रिय राजा की भांति रहकर हर विभाग में पदस्थ अस्थाई कर्मचारी, अंशकालीन कर्मचारी, अतिथि शिक्षक, संविदा कर्मचारी के प्रति सहानुभूति पूर्वक, न्याय पूर्वक, उनके अधिकारों की रक्षा के लिए त्वरित सुरक्षित भविष्य करने के लिए कदम उठाए जाने चाहिए, ताकि इन कर्मचारियों के परिवार के प्रति यह शासन की एक प्रसनीय एवं न्याय पूर्ण प्रयास होगा। 
Mahadevsingh Verma 
mahadevsinghverma23@gmail.com 

अस्वीकरण: खुला-खत एक ओपन प्लेटफार्म है। यहां मध्य प्रदेश के सभी जागरूक नागरिक सरकारी नीतियों की समीक्षा करते हैं। सुझाव देते हैं एवं समस्याओं की जानकारी देते हैं। पत्र लेखक के विचार उसके निजी होते हैं। यदि आपके पास भी है कुछ ऐसा जो मध्य प्रदेश के हित में हो, तो कृपया लिख भेजिए हमारा ई-पता है:- editorbhopalsamachar@gmail.com 

विनम्र अनुरोध🙏कृपया हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। सबसे तेज अपडेट प्राप्त करने के लिए टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें एवं हमारे व्हाट्सएप कम्युनिटी ज्वॉइन करें। इन सबकी डायरेक्ट लिंक नीचे स्क्रॉल करने पर मिल जाएंगी। इसी प्रकार मध्य प्रदेश के कुछ जागरूक नागरिकों द्वारा उठाए गए मुद्दों को पढ़ने के लिए कृपया स्क्रॉल करके सबसे नीचे POPULAR Category में  KhulaKhat पर क्लिक करें।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !