MP NEWS - अनुकंपा नियुक्ति के लिए जबलपुर में भाई की हत्या

मध्य प्रदेश में सरकारी नौकरी के लिए लोग क्या कुछ नहीं कर रहे हैं। कोई सचमुच खुद को विकलांग कर रहा है, ताकि आरक्षण का लाभ मिल जाए। किसी का ऐसा वाला तो किसी का पैसा वाला शोषण हो रहा है और अब जबलपुर में अनुकंपा नियुक्ति के लिए एक युवक ने अपने सगे भाई की हत्या कर दी। 

सरकारी नौकरी का नाम सुनते ही भाइयों के बीच तनाव बढ़ गया

हनुमानताल इलाके के प्रेम नगर के रहने वाले अभिषेक भारती (31 वर्ष ) और विनोद भारती (28 वर्ष) के पिता नगर निगम में कर्मचारी थे। 7 साल पहले पिता का निधन हो गया। मां को पेंशन मिल रही है। कुछ दिन पहले जानकारी लगी कि पिता की जगह अनुकंपा नौकरी भी मिलनी है, इसकी प्रोसेस पूरी हो चुकी है। दोनों भाई नौकरी चाहते थे। मां की पेंशन - प्रॉपर्टी पर भी हक के लिए झगड़ा करते थे। विवाद ज्यादा होने लगा तो 6 महीने पहले अभिषेक ने घर छोड़ दिया। वह अधारताल में किराए का मकान लेकर रहने लगा। मां से मिलने आता रहता था।

हत्या करने के बाद अंतिम संस्कार भी किया

अभिषेक प्राइवेट जॉब करता था। शादी नहीं हुई थी। 3 मार्च की शाम वह मां से मिलने के लिए घर आया था। यहां दोनों भाइयों में झगड़ा हुआ। रात 12 बजे अभिषेक अधारताल के लिए निकल गया। दूसरे दिन 4 मार्च की सुबह उसका शव अधारताल थाने की रामेश्वरम कॉलोनी के पास डिवाइडर के पास मिला। देखने में लग रहा था कि डिवाइडर से टकराने के कारण उसकी मौत हुई है। सूचना पर छोटा भाई विनोद, चाचा उमाशंकर पीएम हाउस पहुंचे। विनोद ने ही बड़े भाई का अंतिम संस्कार किया।

कैसे पता चला हादसा नहीं हत्या है

अधारताल थाना प्रभारी विजय विश्वकर्मा उस स्पॉट पर पहुंचे, जहां अभिषेक की लाश मिली थी। मौके पर ऐसे निशान या सबूत नहीं मिले, जिससे लगे कि टक्कर इतनी तेज थी कि मौके पर ही मौत हो जाए। अभिषेक के सिर्फ सिर पर ही गंभीर चोट लगी थी। थाना प्रभारी को संदेह हुआ। वे हनुमानताल पहुंचे। यहां पड़ोसियों से पूछताछ में पता चला कि दोनों भाइयों में मां की पेंशन और प्रॉपर्टी को लेकर झगड़ा होता था।

50 से ज्यादा CCTV फुटेज खंगाले, यहीं से मिला क्लू

पुलिस ने प्रेम सागर और अधारताल के बीच 50 से ज्यादा CCTV कैमरों के फुटेज देखे। फुटेज में दिखा कि 3 मार्च की रात अभिषेक एक्टिवा से अधारताल के लिए जा रहा है। विनोद अपने एक साथी के साथ उसके पीछे जाते हुए दिखाई दिया। ये दोनों भी एक्टिवा पर हैं। पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया। पूछताछ में उसने बताया कि अभिषेक के घर से निकलते ही वह भी उसके पीछे चला गया। सुनसान इलाके में उसे रोका, फिर सिर में लोहे का पट्‌टा मारकर हत्या कर दी। उसकी एक्टिवा को डिवाइडर से टकराया। एक्टिवा उसके ऊपर पटक दी। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !