MP NEWS - गुना में खटारा बस का एक्सीडेंट, 13 यात्री जिंदा जले, 16 घायल, मुख्यमंत्री रवाना

मध्य प्रदेश के गुना जिले में परिवहन विभाग की रिश्वतखोरी के कारण सड़क पर दौड़ रही एक खटारा यात्री बस का एक्सीडेंट हो गया। बस में कुल 30 यात्री सवार थे। इसमें से 12 यात्री जिंदा जल गए। 14 यात्री घायल हो गए हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती किया गया है। बस का रजिस्ट्रेशन, बीमा, फिटनेस कुछ भी नहीं था, फिर भी खुले आम सड़क पर दौड़ रही थी। UPDATE- मरने वालों की संख्या 13 हो गई है। घटना को हृदय विधायक बताते हुए मुख्यमंत्री डॉ मोहन यादव पीड़ित परिवारों से मिलने के लिए रवाना हो गए हैं।

गुना से आरोन के रास्ते में डंपर में बस में सीधी टक्कर मारी

हादसा बुधवार रात करीब साढ़े 8 बजे हुआ। बस गुना से आरोन तरफ जा रही थी। तभी एक डंपर से बस की टक्कर हो गई। टक्कर लगते ही बस पलट गई और उसमें आग लग गई। फिलहाल बस में लगी आग पर काबू पा लिया गया है। एसपी ने बताया कि बस में करीब 30 सवारियां थी। बस करीब 8 बजे गुना से आरोन के लिए निकली थी। करीब 8:30 बजे बस और डंपर में आमने सामने की भिड़ंत हुई। पुलिस अधीक्षक श्री विजय खत्री ने बताया कि कुल 12 यात्री जिंदा जल गए हैं। इनमें से 11 डेड बॉडी निकाली जा चुकी है। 14 लोगों को अस्पताल में भर्ती किया गया है। 

बस का रजिस्ट्रेशन, बीमा, फिटनेस कुछ भी नहीं था 

हादसे का शिकार हुई बस भानु प्रताप सिकरवार के नाम पर रजिस्टर्ड है। बस का रजिस्ट्रेशन, बीमा, फिटनेस खत्म हो गई थी। बस खटारा थी, इसके बावजूद नियमित रूप से यात्रियों को लेकर सड़क पर दौड़ रही थी। इस प्रकार की अवैध वाहनों के पास कोई लीगल डॉक्यूमेंट नहीं होता परंतु कहते हैं कि आरटीओ की पर्ची, हर लीगल डॉक्यूमेंट से ज्यादा मूल्यवान होती है। ऐसे अवैध वाहनों के खिलाफ पूरे मध्य प्रदेश में कहीं कोई कार्रवाई नहीं होती। परिवहन विभाग में व्याप्त रिश्वतखोरी के कारण गुना में 12 यात्री जिंदा जल गए। मुख्यमंत्री ने हादसे पर दुख जाता है और जांच के आदेश दिए हैं परंतु जांच की निष्पक्षता के लिए किसी भी अधिकारी को निलंबित नहीं किया है। 

⇒ पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके भोपाल समाचार का टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !