MP NEWS - शिवपुरी में वीरेंद्र रघुवंशी ने केपी सिंह को खदेड़ा, बैक टू पिछोर फाइनल!

मध्य प्रदेश के शिवपुरी जिले में एकमात्र दिग्विजय कांग्रेस नेता केपी सिंह की इस बार काफी किरकिरी हो गई है। प्रीतम लोधी के डर से पिछोर से भागकर शिवपुरी आए थे परंतु अब खबर आ रही है कि भाजपा से लौट कर आए वीरेंद्र रघुवंशी, शिवपुरी से केपी सिंह को खदेड़ने में सफल हो गए हैं। बुधवार को फाइनल हो गया है कि अगली लिस्ट में केपी सिंह बैक टू पिछोर और शैलेंद्र सिंह का अकाउंट भूल चूक लेनी देनी में क्लोज कर दिया जाएगा। 

केपी सिंह को कमलनाथ ने दिल्ली तलब किया

खबर मिली है कि, कांग्रेस पार्टी के सीएम कैंडिडेट एवं प्रदेश अध्यक्ष श्री कमलनाथ ने श्री केपी सिंह को दिल्ली तलब किया था। इसके बाद श्री केपी सिंह ने श्री दिग्विजय सिंह से भी मुलाकात की। पिछली बार इसका उलटा हुआ था। श्री केपी सिंह पहले श्री दिग्विजय सिंह से मिले थे और फिर श्री कमलनाथ से। इस मुलाकात के बाद टिकट फाइनल हो गया था। बताया जा रहा है कि बुधवार की रिवर्स मीटिंग के बाद टिकट स्थगित हो गया है। केपी सिंह को बोल दिया गया है कि वह अपनी विधानसभा में सक्रिय हो जाएं। इससे पहले कांग्रेस पार्टी की लिस्ट में शिवपुरी विधानसभा से श्री केपी सिंह को अधिकृत प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद श्री वीरेंद्र रघुवंशी के समर्थन में पीएससी ऑफिस भोपाल और सीएम कैंडिडेट कमलनाथ के घर पर रघुवंशी समाज के लोगों ने प्रदर्शन किया था। इसमें श्री कमलनाथ ने रघुवंशी समाज की दलीलों का समर्थन किया था परंतु बाद में श्री दिग्विजय सिंह के बंगले से खबर आई की शिवपुरी के टिकट में कोई परिवर्तन नहीं होगा। अब ताजा खबर आ रही है कि, बुधवार की रात श्री वीरेंद्र रघुवंशी अपने अभियान में सफल हो गए हैं।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस के बागी नेताओं को विधायक का दर्जा दिया जाएगा

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने बागी हो रहे नेताओं को साधने के लिए किया वादा। कमलनाथ ने कहा मध्यप्रदेश में कांग्रेस सरकार बनते ही विधान परिषद के गठन किया जाएगा, विधान परिषद के माध्यम से प्रदेश के बुद्धिजीवियों, समाजिक कार्यकर्ताओं एवं जनप्रतिनिधियों को सेवा का अवसर प्राप्त होगा। लेकिन बड़ी समस्या यह है कि, कांग्रेस पार्टी में टिकट के 4000 दावेदारों में से मात्र 144 को टिकट दिया गया है। यदि विधान परिषद बनाते हैं तो 25-50 को एडजस्ट किया जा सकेगा। निगम मंडलों में भी 10-20 एडजस्ट हो जाएंगे। बड़ा सवाल यह है कि बाकी के कहां जाएंगे।

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !