BHOPAL NEWS- आयुर्वेद के जूनियर डॉक्टर एवं मेडिकल स्टूडेंट हड़ताल पर

समस्त आयुर्वेद कॉलेज के पीजी-यूजी छात्रों के अलावा ट्रेनी छात्र अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले गए हैं। यह छात्र लगातार परीक्षाएं समय पर कराने एवं स्टायपेंड में बढ़ोत्तरी की मांग कर रहे हैं। खुशीलाल आयुर्वेदिक हास्पिटल से करीब 450 से अधिक छात्रों ने मंगलवार को हड़ताल पर रहते हुए विरोध दर्ज किया। 

सदैव निराशा ही हाथ लगी है

छात्रों ने बताया कि प्रदेश भर के सातों गवर्नमेंट आयुर्वेदिक कॉलेज के छात्र इस समय हड़ताल पर हैं। छात्रों ने बताया कि प्रदेश के शासकीय आयुष महा विद्यालयों में स्वशासी स्नातकोत्तर, गृह चिकित्सक, इंटर्न के साथ शासन द्वारा घोर उपेक्षा का व्यवहार किया जा रहा है । सरकार को कई वर्षों से लगातार समय समय पत्राचार किया जाता रहा है लेकिन सदैव निराशा ही हाथ लगी है।

हड़ताली आयुर्वेद विद्यार्थियों की मांगे 

  • मध्यप्रदेश के आयुर्वेद के प्रशिक्षुओं (इंटर्न) गृह चिकित्सकों तथा स्नातकोत्तर छात्रों को दी जाने वाली शिष्य वृति (स्टायपेंड) को समयानुसार संशोधित न किये जाने के कारण विसंगति उत्पन्न हो रही है ।
  • मध्य प्रदेश आयुर्विज्ञान विश्वविद्यालय, जबलपुर द्वारा स्नातक एवं स्नातकोत्तर छात्रों की परीक्षा एवं अन्य शैक्षणिक गतिविधियों को विश्वविद्यालय द्वारा अकादमिक कैलंडर अनुसार पूर्ण किया जाए।
  • मध्यप्रदेश शासन के अंतर्गत लोक सेवा आयोग द्वारा आयुर्वेद चिकित्सा अधिकारी हेतु प्रतिवर्ष नवीन पदों को प्रतिवर्ष उपाधि प्राप्त करने वाले स्नातक एवं स्नातकोत्तर छात्रों के सम्मिलित अनुपात मे नवीन पदों को सृजित किया जाए।
  • प्रदेश के आयुर्वेद स्नातकोत्तर छात्रों को अन्य राज्यों कि तरह चिकित्सीय छुट्‌टी (Medical Leave ) प्रदान किया जाए। 

 पिछले 24 घंटे में सबसे ज्यादा पढ़े जा रहे समाचार पढ़ने के लिए कृपया यहां क्लिक कीजिए। ✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें। ✔ यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें।  ✔ यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन कर सकते हैं। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल - व्हाट्सएप ग्रुप पर कुछ स्पेशल भी होता है।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !