मैं आज इस मंच से मंत्री को धौंस दे रहा हूं, नहीं सुधरा तो तुझे छोड़ेंगे नहीं: दिग्विजय सिंह - MP NEWS

भोपाल। दिग्विजय सिंह और ग्वालियर के सिंधिया राजपरिवार की दुश्मनी बहुत पुरानी है। 2019 से पहले तक दोनों कांग्रेस पार्टी में थी इसलिए पब्लिक का पर्दा करते थे परंतु अब सब कुछ खुले में हो रहा है। श्री दिग्विजय सिंह ने श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया समर्थक मंत्री श्री महेंद्र सिंह सिसोदिया को उन्हीं के विधानसभा क्षेत्र में जाकर खुली धमकी दी। 

तू नहीं सुधरा तो तुझे छोड़ेंगे नहीं, दिग्विजय सिंह ने महेंद्र सिंह सिसोदिया के लिए कहा

पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह ने भरे मंच से कहा कि, मैं आज इस मंच से मंत्री को धौंस दे रहा हूं कि तू नहीं सुधरा और सरकार कांग्रेस की आ गई, तो तुझे छोड़ेंगे नहीं। इतना ही नहीं, उन्होंने अधिकारी-कर्मचारियों को भी चेतावनी दे डाली कि निर्दोष लोगों को पकड़ोगे, तो मुझसे बुरा कोई नहीं होगा। दिग्विजय सिंह कांग्रेस पार्टी के निर्धारित कार्यक्रम के तहत बमोरी विधानसभा क्षेत्र में कांग्रेस कार्यकर्ताओं की बैठक को संबोधित करने के लिए गए थे।

यदि आप भी नहीं माना तो मुझे भी खुलकर सामने आना पड़ेगा: दिग्विजय सिंह

उन्होंने कहा कि यह हुकूमत जनता की है, न कि दलालों और लुटेरों की। एक बार फिर अधिकारी-कर्मचारियों से कह रहा हूं कि देश में सरकार संविधान, नियम और कानून से चलती है और जो इनका पालन नहीं करेगा, हम उसको देख लेंगे। छोटी से बड़ी अदालत और सुप्रीम कोर्ट तक लड़ेंगे। इसके साथ ही उन्होंने पंचायत मंत्री को एक बार धमकी देते हुए कहा कि मंत्रीजी बहुत सारे प्रकरण हैं, जिसके बारे में मुझे जानकारी है लेकिन भलमनसाहत में चुप बैठा हूं। यदि इस प्रकार हमारे लोगों से बात की, तो मुझे भी खुलकर सामने आना पड़ेगा।

इसके बाद पूर्व मुख्यमंत्री सिंह ने कार्यकर्ताओं काे चुनावी तैयारियों का मंत्र पढ़ाया, तो कमजोरियों को ढूंढकर चुनाव जीतने के लिए तैयारी करने कहा। बैठक में पूर्व मंत्री व राघौगढ़ विधायक जयवर्धन सिंह, कांग्रेस जिलाध्यक्ष मेहरबान सिंह धाकड़, शहर अध्यक्ष हरिशंकर विजयवर्गीय सहित मंडल पदाधिकारी व कार्यकर्ता मौजूद रहे।

मैं सिर्फ भगवान और महाराज से डरता हूं: पंचायत मंत्री महेंद्र सिंह

इधर, रविवार को पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री महेंद्रसिंह सिसोदिया ने पलटवार किया। उन्होंने कहा कि पता नहीं कि दिग्विजय सिंह ने किस बात के लिए धमकी दी है। जबकि वो भी और बमोरी की जनता अच्छी तरह जानती है कि मैं अच्छा करना जानता हूं, बुरा किसी का नहीं करता। यदि बदले की भावना से कार्रवाई करता होता, तो आधे से ज्यादा बमोरी, कांग्रेस कार्यकर्ताओं से खाली हो चुकी होती। मैं जीवन में सिर्फ ईश्वर के अलावा अपने नेता (ज्योतिरादित्य सिंधिया) से डरा हूं और किसी से नहीं। जहां तक अधिकारी-कर्मचारियों की बात है, तो पहले राघौगढ़ के कर्मचारियों को ठीक करें, जिसके बाद दूसरी जगह देखें। 

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है। यहां क्लिक करके व्हाट्सएप ग्रुप ज्वाइन कर सकते हैं।

#buttons=(Accept !) #days=(20)

Our website uses cookies to enhance your experience. Check Now
Accept !