GWALIOR NEWS- शहर में पार्किंग फ्री, नंबर प्लेट गलत हुई तो FIR होगी

ग्वालियर
। शहर की सड़कों पर वाहन पार्क करने वाले लोगों को पार्किंग शुल्क व जुर्माना अदा करना होगा। वहीं जो लोग अपने वाहन मल्टी लेवल पार्किंग में खड़े करेंगे, उन्हें कोई पार्किंग शुल्क नहीं देना पड़ेगा। शहरवासियों में यातायात जागरूकता लाने के उद्देश्य से संभाग आयुक्त श्री दीपक सिंह के सुझाव पर खासतौर पर ग्वालियर शहर के इन्दरगंज व राजपायगा रोड़ की मल्टीलेवल पार्किंग क्षेत्र में केवल एक माह के लिए यह व्यवस्था लागू होगी। इस आशय का निर्णय संभाग आयुक्त श्री दीपक सिंह एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री डी श्रीनिवास वर्मा की मौजूदगी में शहर की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने के उद्देश्य से आयोजित हुई बैठक में लिया गया।

ग्वालियर शहर का ट्रैफिक सिस्टम सुधारने के लिए गाइडलाइन तैयार

गुरूवार को यहाँ पुलिस कंट्रोल रूम में आयोजित हुई बैठक में संभाग आयुक्त श्री सिंह एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री वर्मा ने कहा कि हमारे प्रयास ऐसे हों, जिससे शहरवासियों की मल्टीलेवल पार्किंग में वाहन खड़ा करने की आदत बने। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक श्री अमित सांघी, नगर निगम आयुक्त श्री किशोर कान्याल, सीईओ स्मार्ट सिटी श्रीमती नीतू माथुर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमती मृगांखी डेका व एडीएम श्री एच बी शर्मा सहित नगर निगम, यातायात पुलिस, लोक निर्माण व सेतु निगम के अधिकारियों ने इस बैठक में मौजूद रहकर शहर की यातायात व्यवस्था को सुदृढ़, सुगम व बेहतर बनाने के लिये गहन विचार-मंथन किया।

पता लगाइए, सड़क पर एक्सीडेंट क्यों होते हैं

संभाग आयुक्त एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक ने कहा कि ट्रैफिक सिगनल व यातायात नियमों का उल्लंघन करने वाले लोगों से जुर्माना तो वसूलें हीं, साथ ही यातायात नियमों के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिये स्कूलों व अन्य स्थानों पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करें। सड़क यातायात में बाधा बन रहीं शहर के विभिन्न मार्गों पर अनावश्यक रोटरियों को व्यवस्थित करने के लिये भी अधिकारी द्वय ने कहा। अधिकारी द्वय ने यह भी कहा कि अधिक सड़क दुर्घटना वाले क्षेत्रों का अध्ययन कर यह पता लगाएँ कि किस कारण से उन क्षेत्रों में अधिक दुर्घटनाएँ हो रही हैं।  

नम्बर प्लेट के साथ छेड़छाड़ करने वालों पर FIR दर्ज की जाएगी

बैठक में तय किया गया कि जो लोग अपने वाहन की नम्बर प्लेटों के साथ छेड़छाड़ करते हैं उनसे जुर्माना तो वसूला ही जायेगा। साथ ही उनके खिलाफ प्रकरण दर्ज कर कानूनी कार्रवाई भी की जायेगी। दुर्घटना का कारण बन रही वाहनों की अधिक रफ्तार को रोकने के लिये शहर में रात के दौरान भी ओवर स्पीडिंग की जाँच होगी। साथ ही राँग साईड पर वाहन एवं वन-वे ट्रैफिक का उल्लंघन करने वालों से अभियान बतौर जुर्माने की वसूली करने का निर्णय बैठक में लिया गया।

स्कूली वाहन के ड्रायवर व सहायकों के आईडी कार्ड थाने में जमा करने होंगे            

संभाग आयुक्त श्री दीपक सिंह एवं अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री डी श्रीनिवास वर्मा ने कहा कि शहर के सभी स्कूलों से संबद्ध बसों एवं अन्य वाहनों के चालकों व सहायकों का न केवल चरित्र सत्यापन कराया जाए बल्कि उनके फोटोयुक्त पहचान पत्र वाहन व स्कूल मालिक अनिवार्यत: संबंधित पुलिस थाने में जमा करें। ड्रायवर व हैल्पर बदलने पर नए ड्रायवर व हैल्पर की जानकारी भी इसी तरह पुलिस थाने में जमा होती रहे। संभाग आयुक्त श्री सिंह ने स्कूलों में गुड टच व बैड टच की जानकारी देने के लिये जागरूकता कार्यक्रम आयोजित करने को भी कहा। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक श्री वर्मा ने स्कूली वाहनों में स्पीड गवर्नर व जीपीएस सिस्टम लगवाने और वाहनों की नियमित फिटनेस जाँच करने पर विशेष बल दिया। नए वन-वे ट्रैफिक, शहर में नए नो एंट्री मार्ग व नई पार्किंग सहित शहर के सड़क यातायात को सुगम बनाने के लिये भी महत्वपूर्ण निर्णय बैठक में लिए गए।  

बॉडी वार्न कैमरों को मिलेगा बढ़ावा

शहर की यातायात व्यवस्था को बेहतर बनाने की कड़ी में बॉडी वार्न कैमरों की संख्या बढ़ाने का निर्णय भी बैठक में लिया गया। यातायात उल्लंघन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई को पारदर्शी बनाने एवं विवादों से बचने में ये कैमरा महती भूमिका निभा रहे हैं। पुलिस मुख्यालय द्वारा अभी तक ग्वालियर शहर के 35 पुलिस अधिकारियों को बॉडी वार्न कैमरे उपलब्ध कराए जा चुके हैं।  

एलीवेटेड रोड़ का भी हुआ प्रजेण्टेशन, संभाग आयुक्त व एडीजीपी लेंगे जायजा

ग्वालियर के विकास में बड़े आयाम के रूप में जुड़ने जा रहे निर्माणाधीन एलीवेटेड रोड़ को बेहतर यातायात के अनुकूल बनाने के प्रावधान सेतु निगम द्वारा किए गए हैं। सेतु निगम के अधिकारियों द्वारा इसका प्रजेण्टेशन बैठक में दिया गया। संभाग आयुक्त श्री दीपक सिंह एवं एडीजीपी श्री डी श्रीनिवास वर्मा जल्द ही संयुक्त रूप से एलीवेटेड रोड़ के दोनों चरणों के लिये प्रस्तावित मार्ग का जायजा लेंगे।

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।