BHOPAL मौसम समाचार - ठंडी हवाओं का हमला, पढ़िए- बचने के लिए क्या करें, क्या ना करें

भोपाल
। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में ठंडी हवाओं की आंधी चल रही है। बुधवार की सुबह दरवाजा खोलते ही कोहरा घरों के अंदर घुस गया। मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार 3 जनवरी का दिन इस सीजन का पहला सीवियर कोल्ड डे दर्ज किया गया है। 

भोपाल के 700 किलोमीटर सर्किल में घना कोहरा

मौसम विशेषज्ञों का कहना है कि पिछले 4 सालों में 3 जनवरी की तारीख में इतना कम न्यूनतम तापमान नहीं था। मंगलवार को सामान्य से 6.9 डिग्री सेल्सियस कम तापमान दर्ज किया गया। सैटेलाइट इमेज से बताया गया है कि भोपाल और उसके चारों तरफ 700 किलोमीटर के दायरे में कोहरा छाया हुआ है। विशेषज्ञों का कहना है कि इतना घना कोहरा होने का कारण भोपाल की हरियाली है। प्रदेश के सिर्फ 6 जिलों नर्मदापुरम, खंडवा, खरगोन, रीवा, सतना और सीधी को छोड़कर बाकी जिलों में रात का तापमान 10 डिग्री से कम रहा। 

तीव्र शीतलहर से बचने के लिए क्या करें 

  • मल्टी लेयर कपड़े पहने। सिर पर कैप और पैर में मोजे जरूर पहने। 
  • जहां तक संभव हो बाहर ना निकलें। सीधी हवा से बचें। 
  • यदि खुली हवा में जाना अनिवार्य है तो पैरों में जूते मोजे से लेकर हाथों में ग्लव्स और सिर पर कान बंद करने वाली कैप अनिवार्य रूप से पहने। 
  • मोटा गरम कपड़ा पहनने के बजाय मल्टी लेयर वाले गर्म कपड़े पहने। 
  • यदि खुली हवा में हैं तो शरीर के तापमान को संतुलित करने के लिए लकड़ी के अलाव का उपयोग करें। 
  • मॉर्निंग वॉक पर ना जाएं। सूर्योदय से पहले स्नान ना करें।