BHOPAL NEWS- करणी सेना परिवार के आंदोलन से कांग्रेस का कोई लेना-देना नहीं: कमलनाथ

भोपाल
। कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि, ये आंदोलन BJP सरकार के खिलाफ है। इसमें कांग्रेस का कोई लेना-देना नहीं है। ये एक समाज कर रहा है, तो कांग्रेस इसमें क्या हस्तक्षेप कर सकती है। करणी सेना के लोग हमसे बात करना चाहते हैं, तो हम जरूर करेंगे। 

धरने पर करणी सेना परिवार ने श्रीराम स्तुति गाई 

उल्लेखनीय है कि जीवन सिंह शेरपुर एवं उनके साथियों को पुलिस ने भेल गांधी चौराहे से अवधपुरी की तरफ जाने वाली रोड पर बैरिकेडिंग करके रोक दिया है। एक प्रकार से प्रदर्शनकारी पुलिस की निगरानी में है। उन्हें ना तो जंबूरी मैदान के भीतर जाने दिया जा रहा है और ना ही बेल चौराहे से बाहर निकलने दिया जा रहा है। प्रदर्शनकारी आम रास्ते पर बैठे हुए हैं। यहां उन्होंने श्रीराम स्तुति की। भजन- रघुपति राघव राजा राम गाया। 

हमें कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन प्रॉपर अनुमति लें: भोपाल पुलिस

एडिशनल डीसीपी राजेश भदौरिया ने बताया पुलिस की सुरक्षा की दृष्टि से सभी व्यवस्था की गई है। इनके नेतृत्वकर्ताओं को बताया गया है कि अनुमति नहीं है। प्रॉपर अनुमति लें। प्रजातांत्रिक तरीके से धरने पर बैठें। अभी इनकी तरफ से कोई एप्लिकेशन नहीं आई है। इनसे चर्चा की गई है कि शांतिपूर्ण तरीके से कोई धरना देता है, तो कोई आपत्ति नहीं है, लेकिन प्रॉपर अनुमति लें। 

करणी सेना के प्रदर्शनकारियों को अवधपुरी के नागरिकों का समर्थन

भोपाल में आम रास्ते पर करणी सेना परिवार के प्रदर्शन से अवधपुरी का रास्ता जाम हो गया है परंतु फिर भी अवधपुरी के नागरिक प्रदर्शनकारियों का समर्थन कर रहे हैं। आज मंगलवार को अवधपुरी के नागरिकों ने करणी सेना परिवार से जुड़े प्रदर्शनकारियों को पानी पिलाया एवं उनके स्वास्थ्य के बारे में पूछा। अवधपुरी के श्री प्रेम प्रकाश धनखड़ ने कहा कि, एक अच्छे उद्देश्य के लिए आंदोलन हो रहा है। बच्चों को रोजगार मिलेगा। योग्यता को सम्मान मिलेगा। इसके लिए यदि रूट डायवर्ट करना पड़ रहा है तो कोई बुराई नहीं है। वैसे भी कई बार बेतुके कार्यक्रमों के कारण रूट डायवर्ट करना पड़ता है। 

करणी सेना भोपाल के समर्थन में देवास में प्रदर्शन

देवास के भोपाल चौराहे पर राजपुत समाज व करणी सैनिकों ने प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह चौहान का पुतला जलाने का प्रयास किया। पुलिस ने एक पुतला जब्त किया तो करणी सैनिक दूसरा व तीसरा पुतला लेकर आ गए और उसे जलाने का प्रयास किया। पुलिस ने कार्यकर्ताओं से दूसरा व तीसरा पुतला भी छीन लिया। कार्यकर्ताओं ने जमकर नारेबाजी भी की। पुतला लेकर इधर से उधर कार्यकर्ता दौड़ते रहे। इस दौरान कुछ कार्यकर्ताओं से पुतला छुड़ाने को लेकर पुलिस की हल्की झड़प भी हुई।

✔ इसी प्रकार की जानकारियों और समाचार के लिए कृपया यहां क्लिक करके हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें एवं यहां क्लिक करके हमारा टेलीग्राम चैनल सब्सक्राइब करें। क्योंकि भोपाल समाचार के टेलीग्राम चैनल पर कुछ स्पेशल भी होता है।