MP NEWS- कमिश्नर की DP वाले वीडियो कॉल से व्यापारी को ब्लैकमेलर्स के जाल में फंसा

खंडवा।
खंडवा में एक कपड़ा व्यापारी को सेक्सटॉर्शन में फंस गया। अब आरोपी उसे ब्लैकमेल करते हुए रुपए की डिमांड कर रहा है। कारोबारी ने इसकी शिकायत थाने में की है। फिलहाल मामला साइबर सेल को सौंपा गया है। 

गीता शर्मा नाम की महिला ने फेसबुक आईडी से मेरा वॉट्सएप नंबर लिया था। उसने वहीं से मेरा नाम, पता आदि भी जुटा लिया। बुधवार रात करीब 10 बजे जब मैं खाना खाकर टहल रहा था, तभी मुझे वॉट्सएप पर उसका वीडियो कॉल आया। मैंने कॉल रिसीव कर लिया। वह अपने होंठों पर हाथ फेरने लगी। थोड़ी देर बाद न्यूड हो गई। इतनी देर में मैं पूरा मामला समझ गया कि यह कॉल फर्जी है। वह कॉल करीब 10 मिनट तक चला, जिसके बाद मैंने फोन काट दिया।

महिला का वीडियो कॉल काटने के थोड़ी देर बाद राहुल शर्मा नाम के युवक ने वॉट्सएप पर मैसेज किया। उसने लिखा कि आपकी जिस महिला से बातचीत हुई है, उसने वीडियो रिकाॅर्ड कर लिया है। वीडियो को यूट्यूब चैनल पर डाल दिया है। बदनामी से बचना है और वीडियो डिलीट करवाना है, तो रुपए लगेंगे। उसने बताया कि वीडियो हटाने के लिए साढ़े 17 हजार रुपए लगेंगे। रुपए फोन से ट्रांसफर कर दो, वर्ना ये वीडियो आपके परिवार वालों तक पहुंचा देंगे।

राहुल शर्मा का मैसेज आने के बाद वॉट्सएप पर एक फोन आया। सामने वाला खुद को पुलिस कमिश्नर बता रहा था। उसकी वॉट्सएप डीपी पर भी किसी पुलिस अफसर का फोटो लगा था। पुलिस अधिकारी ने अपना नाम नहीं बताया, लेकिन कहा कि जो शख्स तुमसे वीडियो डिलीट करवाने के लिए रुपए मांग रहा है, उसे वो पैसे दे दो। वर्ना, महिला की शिकायत पर तुम पर केस ठोंक दूंगा। समाज में बदनामी होगी, वो अलग। इसलिए जितना कहता हूं, उतना कर लो।

इस मामले में व्यापारी का कहना है कि कॉल के दौरान मैंने ऐसा कुछ नहीं किया, जिस पर मुझे शर्मिंदगी हो। वीडियो एडिट करने की धमकी देकर मुझे ब्लेकमैल किया जा रहा है। जिसके बाद मैंने अगले दिन सुबह थाना कोतवाली जाकर शिकायत कर दी। इधर, टीआई बलरामसिंह राठौर का कहना है कि व्यापारी द्वारा आवेदन दिए जाने की जानकारी मिली है। जांच कर आगे की वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।