GWALIOR STATION का मेकओवर होगा, एयरपोर्ट की तरह सजेगा

ग्वालियर।
 ग्वालियर निवासियों के लिए एक अच्छी खबर यह है कि मध्य प्रदेश के ग्वालियर स्टेशन एयरपोर्ट की तरह सजाया जाएगा। ग्वालियर में एयर टर्मिनल के बाद अब रेलवे स्टेशन को हैदराबाद की कंपनी पुनर्विकसित करेगी। यह काम 462.79 करोड़ रुपए की लागत से दो फेस में होगा। 

ग्वालियर स्टेशन का नया स्वरूप किसी एयरपोर्ट की तरह ही लगेगा। स्टेशन के वर्तमान एतिहासिक भवन को उसी स्वरूप में उपयोग किया जाएगा जिससे उसकी प्राचीनता भी नए स्वरूप में दर्शाती रहे। प्रदेश सरकार और केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया स्टेशन के विकास कार्य का शिलान्यास पीएम नरेन्द्र मोदी से कराने का प्रयास कर रहे हैं। फिलहाल यह चर्चा है। रेलवे स्टेशन को पुनर्विकसित करने का काम दो चरणों में होगा। इसका कारण रेलवे स्टेशन के कार्यालय व रेलवे क्वार्टर को दो फेज में तोड़ना है। 

झांसी मंडल के PRO मनोज कुमार ने बताया

रेलवे स्टेशन को पुनर्विकसित करने के लिए टेंडर प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। जल्द केपीसी प्रोजेक्ट्स लिमिटेड हैदराबाद काम शुरू करेगी। रेलवे स्टेशन को पुनर्विकसित करने के लिए स्टेशन के भवन व रेलवे क्वार्टर सहित करीब 200 संपत्तियों को तोड़ने की कार्रवाई दो फेज में की जाएगी।

रेलवे कर्मचारियों के लिए 4 कार्यालय व 3 आवासीय टावर बनेंगे। कार्यालय दो मंजिला होंगे। कर्मचारियों के रहने के लिए सात मंजिला बिल्डिंग बनाई जाएगी। इसमें 101 परिवारों के लिए फ्लैट होंगे। साथ ही ग्राउंड फ्लोर पर पार्किंग रहेगी। कार्यालय को बिल्डिंग में जीआरपी, आरपीएफ, रेलवे मजिस्ट्रेट कोर्ट, डिप्टी सीई ऑफिस, इलेक्ट्रिक विंग, एमएंडटी, गेस्ट हाउस व कुछ अन्य कार्यालय शिफ्ट किए जाएंगे।