GWALIOR NEWS- आईटी इंजीनियर तृप्ति अग्रवाल की संदिग्ध मौत, पति भी इंजीनियर, संभ्रांत परिवार

ग्वालियर
। लक्ष्मी बाई कॉलोनी में आईटी इंजीनियर तृप्ति अग्रवाल की संदिग्ध मौत हो गई। तृप्ति के पति भी इंजीनियर हैं। तृप्ति के पिता पंजाब नेशनल बैंक से रिटायर है और तृप्ति के ससुर जल संसाधन विभाग से रिटायर हैं। कुल मिलाकर दोनों संभ्रांत परिवार हैं। तृप्ति के परिवार का आरोप है कि उसे दहेज के लिए प्रताड़ित किया जा रहा था। इसी क्रम में उसकी हत्या कर दी गई है। 

GWALIOR TODAY- ससुराल वालों ने तृप्ति को बेंगलुरु से वापस बुला लिया था

पड़ाव थाने के इंस्पेक्टर विवेक अस्थाना ने बताया कि लक्ष्मी बाई कॉलोनी में रहने वाले राकेश अग्रवाल के यहां से सूचना मिली थी। उनकी बहू तृप्ति अग्रवाल की मृत्यु हुई है। तृप्ति अग्रवाल मूल रूप से आईटी इंजीनियर थे और बेंगलुरु में जॉब कर रही थी परंतु कुछ दिनों पहले उसके ससुराल वालों ने जॉब छोड़ कर उसे ग्वालियर बुला लिया था। तृप्ति का पति मिहुर अग्रवाल भी इंजीनियर है और बेंगलुरु में जॉब कर रहा था परंतु लॉक डाउन के बाद से वर्क फ्रॉम होम पर था। तृप्ति के ससुर राकेश अग्रवाल जल संसाधन विभाग से रिटायर हुए हैं जबकि तृप्ति के पिता जयप्रकाश अग्रवाल पंजाब नेशनल बैंक से रिटायर हुए हैं। 

GWALIOR CRIME- तृप्ति अग्रवाल के ससुराल वालों पर हत्या का शक क्यों

तपती के मामा पवन अग्रवाल ने पत्रकारों को बताया कि, ससुराल वालों ने कहा है कि उसने पंखे पर फंदा बनाकर फांसी लगा ली लेकिन पंखे पर ऐसा कोई निशान नहीं है। हमें देरी से सूचना दी गई। जब हम पहुंचे तब तक बॉडी को जमीन पर लेटा दिया गया था। फर्श पर झाड़ू पोछा लगा दिया था। घर के पास में ही अस्पताल है लेकिन ससुराल वालों को लेकर अस्पताल नहीं पहुंचे। 

पवन अग्रवाल ने बताया कि तृप्ति को दहेज के लिए परेशान किया जा रहा था। शादी के कुछ दिनों बाद से ही उसके साथ मारपीट की जाने लगी थी। पिता जयप्रकाश अग्रवाल ने कहा कि, हमें उम्मीद थी कि समय के साथ सब कुछ ठीक हो जाएगा।