दुर्लभ जड़ी बूटी और आयुर्वेदिक दवाइयों वाले भोपाल वन मेला, 300 स्टॉल लगे - MP NEWS

भोपाल
। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान 20 दिसम्बर को शाम 5 बजे लाल परेड मैदान भोपाल में 7 दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय वन मेले का शुभारंभ करेंगे। लाल परेड ग्राउंड भोपाल में आयोजित वन मेले में इस बार 300 विक्रय स्टॉल स्थापित किये जा रहे हैं। इनमें उत्तरप्रदेश, कर्नाटक, छत्तीसगढ़, दिल्ली, उड़ीसा, महाराष्ट्र आदि राज्यों के हर्बल उत्पाद के स्टाल शामिल हैं। 

मेले में आयुर्वेदिक चिकित्सा शिविर, 100 से ज्यादा डॉक्टर

हर्बल उत्पादों विशेषकर कच्चे माल से लेकर प्र-संस्कृत उत्पादों एवं इससे संबंधित तकनीक का जीवंत प्रदर्शन किया जायेगा। साथ ही चिकित्सा परामर्श के लिये ओपीडी के स्टॉल लगाये जायेंगे। इसमें 100 से अधिक आयुर्वेदिक डॉक्टरों/वैद्यों द्वारा निःशुल्क चिकित्सीय परामर्श दिया जायेगा। मेले में “लघु वनोपज से आत्म-निर्भरता” थीम पर आधारित दो दिवसीय कार्यशाला भी होगी। कार्यशाला में भूटान, नेपाल, फिलीपींस के विशेषज्ञों के साथ मध्यप्रदेश एवं अन्य राज्यों के विषय-विशेषज्ञ भी अपने विचार रख सकेंगे। लघु वनोपजों के प्रबंधन एवं संरक्षण के संबंध में विस्तृत चर्चा करेंगे।

भोपाल वन मेला में प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे

मेले में प्रतिदिन सांस्कृतिक कार्यक्रम, स्कूली बच्चों की नृत्य प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, गायन प्रतियोगिता, फ़ैंसी ड्रेस, नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया जायेगा। जनजातीय लोक नृत्य एवं लोक गीत भी होंगे। प्रमुख प्रस्तुतियों में 21 दिसम्बर को बैम्बू म्यूज़िकल बैंड, 22 दिसम्बर को कबीर कैफ़े, 23 दिसम्बर को हास्य कलाकार श्री सुनील पाल का शो, 24 दिसम्बर को प्रसिद्ध गायक श्री विनोद राठौर का कार्यक्रम और 25 दिसम्बर को वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारियों की प्रस्तुति शामिल है।