सरकारी परियोजनाओं के अधिकारियों को मुख्यमंत्री ने 24X7 काम करने के निर्देश दिए- MP NEWS

भोपाल
। मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में संचालित बड़ी शासकीय परियोजनाओं का कार्य निर्धारित समय-सीमा में पूरा करें। कार्यों की गुणवत्ता में कोई समझौता नहीं किया जाए। कलेक्टर्स और संबंधित विभाग के अधिकारी परियोजनाओं की सतत मॉनिटरिंग और निरीक्षण करें। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने यह निर्देश निवास कार्यालय में प्रदेश में संचालित बड़ी शासकीय परियोजनाओं की समीक्षा बैठक में दिए। वित्त मंत्री श्री जगदीश देवड़ा भी उपस्थित थे। मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस और जिलों के अधिकारी वर्चुअली जुड़े।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा घाटी विकास, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और नगरीय विकास एवं आवास विभाग की निर्माणाधीन विभिन्न परियोजनाओं की समीक्षा की। मुख्यमंत्री ने नर्मदा घाटी विकास विभाग की भीकनगाँव बिंजलवाड़ा माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना का कार्य मई 2023 तक पूरा करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कार्य गुणवत्तापूर्ण हो इसके लिए समय-समय पर निरीक्षण भी आवश्यक रूप से किया जाये। उन्होंने कहा कि मई के अंतिम सप्ताह में परियोजना का शुभारंभ कर दिया जाए। मुख्यमंत्री ने छीपानेर माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना की समीक्षा करते हुए कहा कि परियोजना को दिन-रात काम करते हुए मई के प्रथम सप्ताह में पूरा करें। कार्यों की गुणवत्ता और पाइप लाइन उच्च गुणवत्ता की हो।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नर्मदा-क्षिप्रा बहुउद्देशीय परियोजना की समीक्षा करते हुए कहा कि परियोजना का कार्य मई 2023 तक पूरा कर लिया जाए। उन्होंने आईएसपी पार्वती लिंक माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना चरण- 1 एवं 2 की समीक्षा भी की। बताया गया कि परियोजना का कार्य तेजी से चल रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इसी तरह डही परियोजना का कार्य भी तेजी से पूरा करें। उन्होंने नागलवाड़ी परियोजना की समीक्षा करते हुए कहा कि इसे मई 2023 तक पूरा करें। उन्होंने कहा कि तय की गई समय-सीमा का पालन सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग की बल्लौर मल्टी विलेज वाटर सप्लाई स्कीम का कार्य प्राथमिकता से करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि लोगों को पीने का पानी देना हमारी सर्वोच्च प्राथमिकता में शामिल है। इसका कार्य 31 मार्च 2023 तक पूरा कर लिया जाए, जिससे गर्मियों में लोगों को पानी की समस्या उत्पन्न न हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सतना बाणसागर मल्टी विलेज वाटर सप्लाई स्कीम की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इस परियोजना से गर्मियों में पानी देना सुनिश्चित करने के लिये मार्च तक कार्य पूरा करने की कोशिश करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने नगरीय विकास एवं आवास विभाग की बुरहानपुर जल प्रदाय योजना की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि इस परियोजना का कार्य शीघ्रता से करें। लोगों को सड़क खराब होने से परेशानी न हो। जल प्रदाय योजना नगर परिषद भेड़ाघाट, कटंगी, पाटन, मझौली पनागर, सिहोरा और तेंदूखेड़ा का कार्य जनवरी तक पूरा कर लिया जाए। सीवरेज परियोजना, जबलपुर का कार्य भी बारिश से पहले पूरा करें। जनता को कोई परेशानी न हो।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि कलेक्टर्स की ड्यूटी है कि परियोजना की मॉनिटरिंग कर क्वालिटी चेक करें। गड़बड़ हो तो रोकने के लिए कटिबद्ध रहें। मुख्यमंत्री ने संबंधित जिलों के अधिकारियों से भी परियोजनाओं के कार्यों की जानकारी ली।