SAGAR की युवती की जगन्नाथपुरी में अपहरण के बाद हत्या, अर्धनग्न अवस्था में अधजला मिला शव

सागर।
मध्यप्रदेश के सागर जिले के बीना की युवती(18) का जगन्नाथपुरी में अपहरण हो गया था। तीन दिन बाद समुद्र किनारे उसका अर्धनग्न अवस्था में शव बुरी तरह जला हुआ मिला है। युवती परिवार के साथ वहां घूमने गई थी। परिजनों ने रेप की आशंका जताई है। 

युवती के भाई ने पूरा घटनाक्रम बताया। उसने बताया कि 19 नवंबर को मैं माता-पिता, बड़ी बहन और रिश्तेदार के साथ गांव के कुछ और लोग जगन्नाथपुरी यात्रा के लिए रवाना हुए थे। 21 नवंबर को हम वहां पहुंच गए। हम सीटी रोड क्षेत्र स्थित शांति पैलेस नाम की होटल में रुके। 23 नवंबर की सुबह 5.42 बज रहे थे। कमरे की बालकनी से कपड़े नीचे गिर गए थे। बहन उसे लेने नीचे गई थी। काफी देर बाद वह नहीं लौटी तो हम लोगों ने सोचा कि चाचा के साथ मंदिर चली गई होगी।

मंदिर से जब चाचा अकेले लौटे, तो हमने बहन के बारे में पूछा। उन्होंने बताया कि वे अकेले मंदिर गए थे। इसके बाद हम लोगों ने उसकी बहुत तलाश की, लेकिन कुछ पता नहीं चला। होटल के कैमरे देखें तो वह सीसीटीवी में नीचे आते तो नजर आई, लेकिन उसके बाद कहां गायब हो गई यह पता नहीं चला। उसी दिन शाम को हमने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई। इसके बाद 24 नवंबर को पूरा परिवार वहां से बीना लौट आया। परिवार के अन्य सदस्य वहीं रुके हुए थे। 26 नवंबर की शाम को ओडिशा पुलिस ने बताया कि समुद्र किनारे एक युवती की लाश मिली। पुलिस ने उसकी फोटो भी भेजी थी। फोटो देखने के बाद वह उसकी बहन ही निकली। जगन्नाथपुरी में रूके गांव के अन्य लोगों ने भी उसकी शिनाख्त की। इसके बाद परिवार के लोग शनिवार को वहां रवाना हो चुके हैं। वे सोमवार को वहां पहुंचेंगे।

रेप की जताई आशंका

युवती के भाई ने बताया कि शव को देखकर आशंका है कि उसके साथ दुष्कर्म और मारपीट की गई। इसके बाद उसका शव जलाकर समुद्र किनारे फेंका गया है। शव अर्धनग्न अवस्था में बुरी तरह जला हुआ है। उसे केमिकल या एसिड से जलाने की आशंका है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही रेप की पुष्टि हो सकेगी।