MP WEATHER, Go Pachmani- तापमान 5 डिग्री से कम, हिल स्टेशन पर हॉलिडे का विंटर सीजन शुरू

भोपाल। मध्यप्रदेश के इकलौते हिल स्टेशन पचमढ़ी का तापमान 5 डिग्री से कम हो गया है। यदि आपको भी रात में कड़ाके की ठंड, सुबह गुनगुनी धूप और दिन भर गुलाबी सर्दी का आनंद लेना है तो बिल्कुल सही समय है, पचमढ़ी पहुंच जाइए। 

ठंड के मौसम में पचमढ़ी का पर्यटन

कड़कड़ाती ठंड में पर्यटक सर्दी का लुत्फ उठाने के लिए यहां पर पहुंच रहे हैं। इस हिसाब से यहां के होटल और कॉटेज भी तैयार किए गए हैं। घने कोहरे और धुंध में पहाड़ों की रानी पचमढ़ी का नजारा बेहद खूबसूरत कर दिया है। यहां की सुबह धुंध सी लिपटी हुई नजर आ रही है। इसलिए तो लोग यहां आने के लिए वीकैंड की प्लानिंग करने लगे हैं। कड़कड़ाती ठंड के बावजूद बड़ी संख्या में यहां सैलानी आते हैं। 

MP WEATHER REPORT- मध्य प्रदेश मौसम समाचार 

भारत मौसम विभाग के भोपाल केंद्र के अनुसार मध्यप्रदेश में सबसे ज्यादा ठंड ग्वालियर और जबलपुर में पड़ रही है। दोनों जिलों में सामान्य तापमान 8 डिग्री सेल्सियस के नीचे चला गया है। जबलपुर में शीत लहर शुरू हो गई है। नौगांव, उमरिया और पचमढ़ी में तापमान 5 डिग्री के आसपास पहुंच गया है। पचमढ़ी में दिन का तापमान 23 डिग्री सेल्सियस से अधिक नहीं हो रहा है। इसके कारण पचमढ़ी में ठंड सबसे अलग तरीके से पढ़ रही है। नरसिंहपुर और सिवनी जिले का सामान्य अधिकतम तापमान 25 डिग्री सेल्सियस के नीचे आ गया है। 

कैसे पता चलता है किसी इलाके में शीतलहर शुरू हो गई है 

रिटायर्ड मौसम वैज्ञानिक डीपी दुबे ने बताया कि शीतलहर (कोल्ड वेव) न्यूनतम तापमान कम से कम 10 डिग्री सेल्सियस होना जरूरी है। इसके साथ ही तापमान सामान्य से 5 डिग्री तक नीचे होना चाहिए। यानी मान लो भोपाल में रात का पारा आज सामान्य 14 डिग्री होना चाहिए और वह 9 डिग्री सेल्सियस पहुंच जाता है, तो शीतलहर चलती है। अति शीतलहर में सामान्य से 7 डिग्री सेल्सियस गिरना चाहिए। इसी तरह, शीतलहर (कोल्ड डे) इसमें अधिकतम तापमान सामान्य से 5 डिग्री कम होना चाहिए। अधिकतम तापमान कम से कम 15 डिग्री सेल्सियस होना चाहिए।