INDORE NEWS- पढ़िए ऐसा क्या था, जो सब जानते हुए भी वैशाली के माता-पिता चुप थे

इंदौर
। फेमस टीवी एक्ट्रेस वैशाली ठक्कर सुसाइड केस में उसका ex-boyfriend राहुल नवलानी उसे ढाई साल से ब्लैकमेल कर रहा था। इसकी जानकारी वैशाली की फैमिली को भी थी। इंपोर्टेंट क्वेश्चन यह है कि फिर ऐसा क्या था जो वैशाली ने राहुल के खिलाफ पुलिस से कंप्लेंट नहीं की। पूरी फैमिली लास्ट तक चुप रही। 

यह पूरी कहानी दोस्ती से शुरू होती है और दोस्ती पर ही खत्म होती है। वैशाली के पिता बलवंत ठक्कर और राहुल के पिता नरेश नवलानी पुराने दोस्त से हैं। दोनों के अच्छे फैमिली रिलेशन है। इसीलिए दोनों ने इंदौर में पास-पास में मकान बनाया। दोनों एक ही ट्रेड में बिजनेस करते हैं। वैशाली और राहुल की उम्र भी एक जैसी थी। फैमिली फ्रेंड होने के कारण दोनों एक दूसरे से बातें करते थे। वैशाली एक्टिंग की दुनिया में आगे बढ़ रही थी और राहुल को मॉडलिंग का शौक था। वैशाली ने राहुल को काफी सपोर्ट किया। यहां तक की कहानी से अनुमान लगाया जा सकता है कि दोनों एक-दूसरे के नजदीक आ गए, क्योंकि सिम्टम्स बताते हैं कि बलवंत और नरेश अपनी दोस्ती को रिश्तेदारी में बदल देंगे, परंतु ऐसा नहीं हुआ। 

नरेश ने राहुल की शादी कोटा राजस्थान की रहने वाली दिशा से कर दी। राहुल और वैशाली रिलेशन में थे लेकिन उन्होंने इस शादी को होने दिया। यहीं से आशिकी ने एक अजीब सा मोड़ ले लिया। राहुल चाहता था कि वैशाली हमेशा उसकी बनकर रहे। दिशा चाहती थी कि राहुल और वैशाली के बीच कोई कनेक्शन ना हो। वैशाली, राहुल से दूर रहना चाहती थी परंतु अपनी लाइफ का हर अपडेट राहुल तक पहुंचाती थी। 

वैशाली ने सबसे पहले अपनी मां अनु को सब कुछ बता दिया था। फिर पूरी फैमिली को पता चल गया। सबको मालूम था कि राहुल ने ही वैशाली की पहली सगाई तुड़वाई थी और कहा था कि वह वैशाली की शादी नहीं होने देगा। इस सब के बावजूद:- 

  • वैशाली और उसके परिवार ने राहुल की पुलिस से शिकायत नहीं की। 
  • नरेश नवलानी ने अपने बेटे को दंडित नहीं किया। 
  • दिशा ने भी वैशाली को बदनाम किया और राहुल का पक्ष लिया। 
  • वैशाली के पिता ने भी राहुल पर गुस्सा नहीं किया। 
  • वैशाली के परिवार ने राहुल को बदनाम नहीं किया। 

यह सब कुछ इसलिए हुआ क्योंकि वैशाली के पिता बलवंत, राहुल के पिता नरेश का काफी सम्मान करते थे। नरेश ने भी बलवंत की जिंदगी में काफी सपोर्ट किया है। बलवंत को विश्वास था कि नरेश कोई ना कोई हल निकाल लेंगे। ज्यादातर लोगों की यही कोशिश होती है। वह चाहते हैं कि सब कुछ ठीक हो जाए और लाइफ पहले की तरह चलती रहे। लोग विवाद नहीं चाहते, इसी के कारण अपराध बढ़ जाते हैं।