INDORE NEWS- वैशाली केस में राहुल को VIP ट्रीटमेंट दे रही थी पुलिस, कोर्ट ने फटकारा

इंदौर
। पुलिस रिकॉर्ड बताता है कि टीवी एक्ट्रेस वैशाली ठक्कर सुसाइड केस का आरोपी राहुल नवलानी गिरफ्तार किया गया, लेकिन सूत्रों का कहना है कि एक खास पुलिस अधिकारी से बातचीत के बाद राहुल को लाया गया। वादे के अनुसार पुलिस हिरासत में राहुल को वीआईपी ट्रीटमेंट दिया जा रहा था। यह देख मजिस्ट्रेट जयश्री आर्यमान मेहरा ने फटकार लगाई। 

उल्लेखनीय है कि पुलिस ने राहुल की पत्नी दिशा को गिरफ्तार नहीं किया है। गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा के बयान के बाद राहुल को गिरफ्तार कर लिया गया है परंतु कोर्ट में पेश नहीं किया। पुलिस ने राहुल नवलानी की कोर्ट में ऑनलाइन उपस्थिति दर्ज कराने का प्रयास किया। यह देख कर मजिस्ट्रेट जयश्री आर्यमान मेहरा ने फटकार लगाई। कोर्ट के सख्त होते ही 10 मिनट के भीतर राहुल को पेश कर दिया गया। पुलिस ने 10 दिन का रिमांड मांगा परंतु कोर्ट ने 4 दिन का रिमांड मंजूर किया। 

कोर्ट में पेशी से पहले तेजाजी नगर थाने से निकलने के दौरान जब मीडिया ने राहुल से उन पर लगे आरोपों के बारे में पूछा तो उन्होंने सभी आरोपों को झूठा और गलत बताया। पत्नी दिशा को लेकर कमिश्नर ने भूमिका की जांच की बात कही है। उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई है। 

वैशाली के परिवार और परिचितों ने कैंडल मार्च निकाला 

इधर राहुल को कड़ी सजा दिलाने को लेकर वैशाली के परिवार के लोगो ने सांइ बाग कॉलोनी में कैंडल मार्च निकाला था। जिसमें उन्होंने बताया कि राहुल ने उनकी बेटी वैशाली की हंसती खेलती जिंदगी खत्म कर ली। उसे ओर पत्नी दिशा को सजा मिलना चाहिए। इस दौरान कॉलोनी के कुछ रहवासी ओर नीरज ओर वैशाली के दोस्त भी यहां मौजूद थे। 

राहुल की पत्नी को क्लीन चिट दी जा सकती है 

पुलिस कमिश्नर ने अब तक दो बार बयान दिया है कि इस मामले में दिशा की भूमिका की जांच की जा रही है। इससे एक बात स्पष्ट हो गई है कि दिशा को फ़िलहाल गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। चर्चा तो यह भी है कि दिशा को इस मामले में क्लीन चिट दे दी जाएगी। मामला हाईप्रोफाइल है। वैशाली का परिवार पावरफुल नहीं है परंतु राहुल के पिता का उनकी ट्रेड में सिक्का चलता है। इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं कि राहुल के पिता के कारण वैशाली और उसके पूरे परिवार ने राहुल की कभी किसी से शिकायत ही नहीं की।