MP NEWS- पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं की हड़ताल खत्म, मंत्री और सचिव से आश्वासन मिला

भोपाल
। मध्यप्रदेश में पॉलिटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं द्वारा शुरू की गई अनिश्चितकालीन हड़ताल खत्म कर दी गई है। टेक्निकल एजुकेशन मिनिस्टर यशोधरा राजे सिंधिया और डिपार्टमेंट के प्रिंसिपल सेक्रेटरी से मिलने के बाद कर्मचारी नेताओं ने हड़ताल खत्म करने का ऐलान कर दिया।

प्रेस को जारी विज्ञप्ति में संघ के प्रदेश सचिव दिनेश कुमार ने बताया कि तकनीकी शिक्षा मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया और प्रमुख सचिव के सहानुभूति पूर्वक आश्वासन के पश्चात संघ द्वारा आयोजित "7 दिवसीय कलम बंद हड़ताल" को दि. 23.09.2022 को आमंत्रित प्रतिनिधि मंडल के मुलाकात के दौरान नीचे लिखी निम्न मांगो के निराकरण के आश्वासन से संतुष्ट होकर दिनांक 24.09.2022 को प्रदेश कोर कमेटी की सहमति से तत्काल प्रभाव से स्थगित किया जा रहा है। और दिनांक 26 सितंबर को सभी अतिथि व्याख्याता अपने कार्य पर लौटेंगे।
         
प्रदेश अध्यक्ष ऋषभ पस्टारिया ने बताया कि माननीय मंत्री और प्रमुख सचिव द्वारा भविष्य सुरक्षा को ध्यान में रखकर मांगो पर कार्यवाही करने स्वत: ही संज्ञान लेने पर समस्त पॉलीटेक्निक और इंजीनियरिंग अतिथि व्याख्याताओं ने धन्यवाद एवं आभार व्यक्त किया है। और कहा यदि तय सीमा में अतिथि व्याख्याताओं की मांग पूरी नही हुई तो पुनः अनिश्चित कालीन कलमबंद हड़ताल पुनः शुरू की जावेगी।

मुख्य मांग बिंदू इस प्रकार है:-
1. कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं को फिक्स मानदेय रू. 30000/- प्रतिमाह देने की प्रक्रिया पूर्ण नही होती, तब तक पोर्टल के माध्यम से नवीन अतिथि व्याख्याता भर्ती पर रोक लगाई जावे।
2. कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं की जानकारी कॉलेजबार नाम, ब्रांच, जन्मतिथि इत्यादि को पोर्टल पर 7 दिवस में दर्शाया जावे।
3. विभाग द्वारा पॉलीटेक्निक अतिथि व्याख्याताओं की फिक्स मानदेय ड्राफ्टिंग कमेटी में संघ की कार्यकारिणी के कम से कम 2 सदस्यों को सम्मलित किया जावे।
4. संस्था प्राचार्यों को आदेशित किया जावे कि कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं के कलम बंद हड़ताल से वापिस आने पर पूर्वानुसार शैक्षणिक कार्य आवंटित किया जावे।
5. जिन कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं को नियुक्ति- आदेश जारी नहीं हुए है, प्राचार्य द्वारा नियुक्ति आदेश जारी किए जावे। साथ ही वर्तमान शैक्षणिक सत्र में मानदेय भूगतान हेतु स्पष्ट दिशा - निर्देश जारी किए जावे।
6. कलमबंद हड़ताल के दौरान हड़ताल पर गए अतिथि व्याख्याताओं को मानदेय भुगतान किया जावे।
7. कार्यरत अतिथि व्याख्याताओं की फिक्समानदेय की अविलंब प्रशासनिक कार्यवाही  अविरोध और निरंतरता पूर्वक 10 सूत्रीय मांगों सहित एक माह में पूर्ण की जावे।