JABALPUR लोकायुक्त ने कटनी अस्पताल के क्लर्क को रिश्वत लेते गिरफ्तार किया

कटनी।
मध्यप्रदेश में जबलपुर लोकायुक्त ने कटनी जिला अस्पताल के सिविल सर्जन कार्यालय की स्थापना शाखा में सहायक ग्रेड 3 के पद पर पदस्थ बाबू को लोकायुक्त की टीम ने रंगे हाथों 8 हजार रुपये की रिश्वत लेते पकड़ा है। जानकारी के अनुसार आवेदक संदीप यादव पिता लखन यादव से यह राशि समयमान वेतनमान लगाए के लिए मांगी गई थी। जिसकी शिकायत उसने लोकायुक्त से की थी।

सोमवार को जब आवेदक कटनी के सिविल सर्जन कार्यालय रिश्वत की राशि लेकर पहुंचा तो लोकायुक्त की टीम आरोपित कर्मचारी राहुल मिश्रा पिता शिवदास मिश्रा 40 वर्ष को रिश्वत लेते पकड लिया। जानकारी के अनुसार आवेदक संदीप यादव सामुदायिक स्वस्थ्य केंद्र बडावारा में लैबटेिक्शन के पद पर पदस्थ है। जिसका समयमान वेतनमान लगना था, लेकिन पिछले आठ माह से यह नहीं लगाया जा रहा था। आवेदक ने बाबू से कई बार इस संदर्भ में निवेदन किया लेकिन बाबू द्वारा आवेदक से 8 हजार रुपये रिश्वत देने के लिए कहा गया। जिसके बाद आवेदक संदीप यादव ने 11 सितंबर को लोकायुक्त कार्यालय जबलपुर में बाबू द्वारा रिश्वत मांगे जाने की शिकायत की थी। साथ में आवेदक द्वारा रिश्वत मांगने की रिकार्डिंग भी कराई गई थी। 

शिकायत का सत्यापन कराने के बाद लोकायुक्त पुलिस अधीक्षक ने टीम गठित कर कार्रवाई करने निर्देश दिए। जिस पर लोकायुक्त की टीम ने सोमवार को दबिश दी। लोकायुक्त निरीक्षक स्वाप्निल दास ने बताया कि 2016 में स्थापना शाखा में पदस्थ बाबू के यहां आय से अधिक संम्पत्ति के मामले में शिकायत आने पर छापे की कार्रवाई की गई थी। इस मामले में अभी कार्रवाई चल रही है।