JABALPUR लोकायुक्त द्वारा डिंडौरी BEO रिश्वत लेते गिरफ्तार, प्रभारी प्राचार्य को सस्पेंड करके वसूली कर रहे थे

जबलपुर।
 मध्यप्रदेश में जबलपुर लोकायुक्त ने गैर हाजरी और निलंबन का मामला निपटाने के नाम पर हाई स्कूल के प्रभारी प्राचार्य से 20 हजार की रिश्वत लेते हुए विकासखंड शिक्षा अधिकारी डिंडौरी को मंगलवार की दोपहर उन्हीं के कार्यालय में ट्रैप कर लिया।

लोकायुक्त इंस्पेक्टर जीएस मर्सकोले ने बताया कि शासकीय हाई स्कूल चिचरिंगपुर के सहायक अध्यापक व प्रभारी प्राचार्य रामकुमार सैयाम पिता अमर सिंह सैयाम द्वारा 9 सितम्बर को लोकायुक्त एसपी कार्यालय में शिकायत की गई थी कि बीइओ डिंडौरी सुरेश कुमार द्विवेदी द्वारा उनकी गैर हाजरी और निलंबन रोकने के बदले 25 हजार रुपये की मांग की जा रही है। 

मंगलवार 13 सितम्बर को विकासखंड शिक्षा अधिकारी कार्यालय डिंडौरी में दबिश दी गई। जैसे ही प्रभारी प्राचार्य ने बीईओ को 20 हजार रूपये की रिश्वत दी उसी दौरान उन्हें पकड़ा गया। कार्रवाई जारी है। लोकायुक्त टीम में निरीक्षक जीएस मर्सकोले के नेतृत्व में निरीक्षक आस्कर किंडो व अन्य अमला शामिल है।